भरोसा था करेंगे चमत्कार

खिताबी जीत के बाद भावुक हुए मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने कही दिल की बात

हैदराबाद -हर मुकम्मल सफर के पीछे काफी संघर्ष और दर्द छुपा होता है, जो कई बार दबा रहता है। हैदराबाद स्थित राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में खेले गए आईपीएल 2019 के फाइनल में जीत हासिल करने के बाद मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा भावुक हुए और ड्रेसिंग रूम में बात करते हुए अतीत की यादों में खो गए। रोहित ने जीत के बाद कहा कि बीते साल दिल्ली में हम प्लेऑफ के लिए क्वालिफाई नहीं कर पाए थे। मैंने यही कहा था कि यह हमारे पास शानदार टीम है। 2018 सीजन में हमारा सफर उम्मीदों के मुताबिक नहीं गया था, लेकिन मुझे भरोसा था कि यह टीम चमत्कार कर सकती है। आज हमने अपने आप को साबित किया है। यह हमारी टीम की पहचान है। हमने आखिरी तक हर किसी पर विश्वास किया। हम में से हर कोई इस सीजन शानदार खेला और मैं ऐसा भाग्यशाली खिलाड़ी बना, जिसने यह ट्रॉफी उठाई। इसलिए आप सभी को धन्यवाद, खिलाडि़यों को, सपोर्ट स्टाफ को, प्रबंधन को, हर किसी को जो इस सफर में हमारे साथ रहा।

पता था, कैसा शॉट खेलेंगे शार्दुल ठाकुर

हैदराबाद। मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा को शार्दुल ठाकुर के शॉट्स के बारे में बखूबी पता है और यही वजह है कि उन्होंने लसिथ मलिंगा से कहा कि उसे धीमी गेंद डाले और आईपीएल के रोमांचक फाइनल में यह उनका मास्टरस्ट्रोक साबित हुआ। रोहित ने शार्दुल को ललचाने के लिए आन साइड खुली छोड़ी थी। मलिंगा ने धीमी गेंद डालकर शार्दुल को आखिरी गेंद पर पगबाधा आउट कर दिया और मुंबई एक रन से खिताब जीत गया। शार्दुल के साथ प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेल चुके रोहित को बखूबी पता था कि उसे कैसे आउट करना है। मैच के बाद रोहित ने कहा कि हमारा फोकस उसे आउट करने पर था। मैं शार्दुल को बखूबी जानता हूं और मुझे पता था कि वह कहां मारना चाहेंगे। मैंने और मलिंगा ने तय किया कि हम धीमी गेंद डालेंगे। मुझे पता था कि वह बड़ा शॉट खेलने की कोशिश करेंगे और ऐसे में कैच आउट हो सकते हैं। वैसे इसका नतीजा कुछ भी हो सकता था।

क्रिकेट जगत

सबसे रोमांचक सत्रों में से एक का शानदार अंत। बेहतरीन व्यक्तिगत प्रदर्शन टीमवर्क के सामने नहीं टिक सकता और यह आज साबित हो गया

सचिन तेंदुलकर

क्या मैच था और अचानक आपको पता चलता है कि इनसान ही खेल रहे थे। दबाव में शानदार कौशल का प्रदर्शन

सौरव गांगुली

जबरदस्त फाइनल। शानदार टूर्नामेंट। चेन्नई की किस्मत खराब रही। मुंबई को बधाई

वीरेंद्र सहवाग

वाह। निशब्द। आईपीएल, क्या शानदार टूर्नामेंट

एबी डिविलियर्स

ओह क्या शानदार मैच था। मुंबई और रोहित शर्मा को बधाई। चेन्नई और एम एस धोनी बदकिस्मत रहे

आर अश्विन

आईपीएल हमेशा नाटकीयता से भरपूर रहता है। आखिरी कुछ ओवरों में ही सब कुछ था। कैच छूटे। मैदान पर फोकस टूटा। शानदार स्ट्रोक्स लगे, रन आउट और उम्दा गेंदबाजी

माइकल वान

वाह, शानदार प्रदर्शन। अब मुझे अपनी सांसों को काबू में लाने के लिए बीयर पीनी पड़ेगी। पिछले दस मिनट से होटल में कूद रहा था। क्या मैच था। आईपीएल से कोई प्यार कैसे न करे

जोंटी रोड्स

चेन्नई की टीम पर गर्व है और इसका हिस्सा होना अदभुत रहा। इतने कम अंतर से हारे। आईपीएल क्या शानदार टूर्नामेंट है। मुंबई

को बधाई

सैम बिलिंग्स

मुंबई ने दबाव का बखूबी सामना करके जीत दर्ज की। क्या शानदार फाइनल था

वीवीएस लक्ष्मण

महान खेल को सीखने के लिए सर्वश्रेष्ठ अकादमी, आईपीएल

केविन पीटरसन

इन पर बरसे इनाम

फाइनल में प्लेयर ऑफ दि मैच

 जसप्रीत बुमराह, 14 रन देकर दो

विकेट, इनाम — पांच लाख

टूर्नामेंट का सबसे वैल्युबल प्लेयर

 आंद्रे रसेल (केकेआर), 510 रन, 11 विकेट, इनाम — दस लाख

आईपीएल में सबसे ज्यादा विकेट

 पर्पल कैप- इमरान ताहिर (चेन्नई सुपर किंग्स) 26 विकेट, इनाम — दस लाख

12वें सीजन में सबसे ज्यादा रन

 डेविड वार्नर (सनराइजर्स हैदराबाद), 692 रन, इनाम — दस लाख

सीजन में सबसे तेज हाफ सेंचुरी

 हार्दिक पंड्या (मुंबई इंडियंस)

इनाम — दस लाख

परफेक्ट कैच ऑफ दि सीजन

ये अजब संयोग

मुंबई ने आईपीएल इतिहास में हर दो साल बाद जीती ट्रॉफी

मुंबई इंडियंस ने पहला आईपीएल खिताब 2013 में जीता था और तब भी टीम के कप्तान रोहित शर्मा ही थे। इसके बाद 2015, 2017 में बाकी दो आईपीएल ट्रॉफी मुंबई इंडियंस के खाते में आई। इस तरह से हर दो साल में मुंबई इंडियंस ने आईपीएल खिताब अपने नाम किया है। 2018 में लीग राउंड से बाहर हुए मुंबई इंडियंस ने 2019 का खिताब अपने नाम कर लिया।

रोहित पहले ऐसे कप्तान, खाते में पांच आईपीएल ट्रॉफियां

आईपीएल इतिहास में रोहित शर्मा इकलौते ऐसे खिलाड़ी हैं, जिनके खाते में पांच आईपीएल ट्रॉफी हैं। 2009 में डेक्कन चार्जर्स चैंपियन बना था और रोहित इस टीम का भी हिस्सा थे। रोहित के अलावा आईपीएल इतिहास में कोई ऐसा क्रिकेटर नहीं है, जिसके खाते में पांच आईपीएल ट्रॉफी हैं। खास बात यह है कि इन पांच खिताब में से चार खिताब तो रोहित की कप्तानी में ही जीते गए हैं।

कोच फ्लेमिंग का खुलासा, नए सिरे से तैयार करेंगे चेन्नई

हैदराबाद। चेन्नई सुपर किंग्स के मुख्य कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने आईपीएल के इस सीजन में बल्लेबाजी में खराब प्रदर्शन के बाद ‘उम्रदराज हो चली टीम’ में बदलाव की जरूरत स्वीकार की। चेन्नई की कोर टीम की औसत उम्र 34 साल है, जिसने पिछले साल खिताब जीता था और इस बार फाइनल में मुंबई इंडियंस से हार गई। फ्लेमिंग और कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने बल्लेबाजी में बेहतर प्रदर्शन की जरूरत पर जोर दिया। कोच ने कहा कि यदि आप एक साल खिताब जीते और अगले साल फाइनल में पहुंचे हैं, तो प्रदर्शन अच्छा कहा जाएगा। हम समझते हैं कि यह उम्रदराज टीम है। हमें नए सिरे से टीम तैयार करने पर सोचना होगा। हमें संभलकर नए सिरे से टीम तैयार करके सही संतुलन खोजना होगा।

एमएस धोनी बोले, अगला आईपीएल सीजन भी खेलूंगा

हैदराबाद। मौजूदा भारतीय टीम के सबसे अनुभवी खिलाड़ी और 2019 आईपीएल में उपविजेता टीम चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने उम्मीद जताई है कि वह वर्ष 2020 में होने आईपीएल के 13वें सत्र में भी खेलेंगे। आईपीएल 12 के रोमांचक फाइनल मुकाबले में मुंबई इंडियंस ने रविवार को चेन्नई सुपरकिंग्स को आखिरी गेंद पर एक रन से हरा कर चौथी बार आईपीएल का खिताब अपने नाम किया था। चेन्नई का यह आठवां फाइनल था और उसे पांचवीं बार उपविजेता रहकर  संतोष करना पड़ा। रोमांचक फाइनल मुकाबले में हारने के बाद धोनी ने कहा कि आईपीएल का यह सत्र टीम के लिए अच्छा रहा है। हमें हालांकि पीछे मुड़ कर देखना होगा कि हम यहां तक कैसे पहुंचे, क्योंकि पिछले सीजन के फाइनल मुकाबलों में पहुंचने के लिए टीम ने इससे बेहतर प्रदर्शन किया हैं।

टूट गया दिल

चेन्नई सुपरकिंग्स के फैन बच्चों का रो-रो बुरा हाल

फाइनल में हार के बाद  चेन्नई के फैंस सदमे में हैं। इसी बीच इंटरनेट पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में एक बच्चा चेन्नई के हारने के बाद पैर पटक-पटक कर रो रहा है। चेन्नई के हारते ही जिस कदर यह बच्चा चीखते हुए अपनी हताशा बयां कर रहा है, वह वाकई दुखदाई है। एक अन्य वीडियो में सुबक-सुबक कर रोने वाला चेन्नई का यह फैन तमिल में कह रहा है कि उसे गलत आउट करार दिया गया।

हार बर्दाश्त नहीं कर पाए भज्जी जमीन पर पटक दिया बल्ला

हार से दुख में डूबे चेन्नई के स्पिनर हरभजन सिंह का वीडियो काफी वायरल हो रहा है। इस वीडियो में भज्जी गुस्से में अपना बल्ला जमीन पर पटककर डगआउट छोड़ते नजर आ रहे हैं। इस वीडियो में चेन्नई के हारते ही डगआउट में बैठे सभी खिलाड़ी व कोच एकदम शांत मुद्रा में बैठे नजर आ रहे हैं, लेकिन भज्जी गुस्से में जोर-जोर से अपना बल्ला जमीन पर पटक रहे हैं। इससे पहले उनका गुस्सा पूरी तरह से कैमरा में कैद हो पाता, वह डगआउट छोड़कर ही चले गए।

You might also like