भाजपा के लिए सारे किसान और बेरोजगार बलि के बकरे

पालमपुर -कांगड़ा-चंबा से कांग्रेस प्रत्याशी पवन काजल ने अपने  चुनावी अभियान को तेज गति प्रदान कर दी है। सुलाह हलके में  बुधवार को उन्होंने नौ जनसभाओं को संबोधित किया ।  उन्होंने कहा कि सुलाह में इतना प्यार मिल रहा है,  जिसकी उन्होंने कभी कल्पना भी नहीं की थी। सुलाह की प्रबुद्ध जनता का आशीर्वाद पाकर वह खुद को गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार की  गलत नीतियों के कारण पांच वर्षों के कार्यकाल में बेरोजगारों की लंबी लाइन लग गई है । पवन काजल ने कहा कि भाजपा सांसद  अपने पांच वर्ष के कार्यकाल में कांगड़ा-चंबा क्षेत्र के लिए कोई भी बड़ी परियोजना नहीं ला सके हैं ।  पर्यटन की दृष्टि में इस इलाके को उभारने की बातें मात्र जुमला बन कर रह गईं । काजल बुधवार को कांगड़ा जिला के तहत सुलाह हलके के दौरे पर थे। इस दौरान उन्होंने परौर, दैहण, भवारना, खड़ुल, हैंजा, थुरल, सूरी, नौरा व रझूं आदि क्षेत्रों में लोगों से मुलाकात कर समर्थन जुटाया। काजल ने कहा कि भाजपा नेताओं द्वारा लगातार बलि का बकरा कहना उनका नहीं, बल्कि हर किसान और युवा का अपमान है। काजल ने कहा है कि वह मध्यम वर्ग, गरीब, किसान, कर्मचारी और बेरोजगारी जैसे मुद्दों पर चुनाव लड़ रहे हैं।  वह एक साधारण से किसान परिवार  की श्रेणी में आते हैं। यही कारण है कि आए दिन भाजपा नेता उन्हें नई गाली दे रहे हैं।  उन्होंने भाजपा से पूछा कि क्या किसान होना गुनाह है। कांग्रेस पार्टी सरकार बनने के बाद पात्र परिवारों को सालाना 72 हजार रुपए देगी। यह रकम सीधे महिलओं के खाते में जाएगी।  काजल ने कहा कि मुझे पता है कि सुलाह की प्रबुद्ध जनता गेम चेंजर है। सुलाह के लोगों ने हमेशा ईमानदार मेहनती लोगों का साथ दिया है। मुझे भी भरपूर प्यार मिल रहा है। उन्होंने कहा कि सुशासन, सड़क, बिजली, फोरलेन और पानी जैसे मसलों पर भाजपा एक शब्द नहीं बोलती। भाजपा ने फोरलेन के काम में रोड़ा अटकाया हुआ है। उन्होंने कहा कि वह साधारण किसान परिवार से हैं।  चुनावी सभाओं के दौरान उनके साथ पूर्व सीपीएस जगजीवन पाल व हरभजन सिंह चौधरी आदि गणमान्य मौजूद रहे।

You might also like