भाजपा में जाना फूल मेरी भूल

करसोग—भाजपा में जाना मेरी भूल रही है, इसके लिए मैं सभी से क्षमा मांगता हूं यह बात देश में संचार क्रांति लाने का दावा करने वाले दिग्गज नेता पंडित सुखराम ने गुरुवार को अपने एकदिवसीय करसोग दौरे में सैकड़ों कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कही। उन्होने कहा कि करसोग का महाविद्यालय काग्रेस की देन है। इस मौके पर पूर्व मंत्री मनंसाराम, पूर्व विधायक मस्तराम, खंड कांग्रेस अध्यक्ष पृथ्वी सिंह नेगी, जिला परिषद सदस्य निर्मला चौहान, विधानसभा करसोग चुनाव प्रभारी कुसुम लता शर्मा, महासचिव जगत राम जगत, इंटक अध्यक्ष गुरबख्श ठाकुर, राजेश वर्मा, मीतू वर्मा, धन्नालाल महाजन, मोतीराम ठाकुर, हीरामणि भारद्वाज, जय गोपाल गुप्ता, कमला वर्मा, कौरां वर्मा, हेतराम शर्मा, दिनेश शर्मा, कांग्रेस प्रवक्ता टीसी मेहता, विकी चौहान, कमल नयन शर्मा, हिरदाराम कपूर, मोहर सिंह ठाकुर, महेश राज साहित अन्य कांग्रेसी नेता भी उपस्थित थे। मंडी संसदीय क्षेत्र से कांग्रेस के युवा प्रत्याशी आश्रर्य शर्मा के लिए वोट मांगने पहुंचे पंडित सुखराम ने कार्यकर्ता सम्मेलन के दौरान कहा कि भाजपा वालों ने कहा कि हमारे साथ चलो हम मान सम्मान देंगे, जो उनके बस की बात नहीं है, असली मानसम्मान तो जनता देती है इसी की उम्मीद लेकर वह अपने पोते आश्रय शर्मा के लिए करसोग की जनता से वोट मांग रहे हैं। आश्रर्य शर्मा को जीत देकर दिल्ली संसद में भेजो वह क्षेत्र के सभी विकास कार्यों में अपना सहयोग देंगे।

आश्रय ने एकजुट की कांग्रेस

पूर्व विधायक मस्त राम ने कहा कि भाजपा ने कोई काम नहीं किया है मात्र जुमलेबाजी ही करने में भाजपा अपनी पहचान बना पाई है। वहीं, पूर्व मंत्री मंनसाराम ने कहा कि युवा कांग्रेस नेता आश्रय शर्मा ने सभी कांग्रेसी नेताओं को एक मंच पर एकजुट किया है।

You might also like