भुंतर एयरपोर्ट से भी अब सस्ती उड़ान

योजना से जुड़ा हवाई अड्डा, पानी की बौछारों से पहली फ्लाइट का वेलकम

भुंतर —प्रदेश का सबसे पुराना कुल्लू-मनाली एयरपोर्ट भुंतर आखिरकार सस्ती उड़ान सेवा से जुड़ गया है। सोमवार को इस सेवा का श्रीगणेश हुआ। इस मौके पर भुंतर एयरपोर्ट के अधिकारियों सहित पवनहंस हवाई कंपनी के अधिकारियों और पर्यटन कारोबारियों ने यहां उपस्थिति दर्ज करवाई। हेलिकॉप्टर ने सुबह शिमला से करीब साढे़ दस बजे उड़ान भरी और 11ः10 बजे भुंतर एयरपोर्ट पहुंचा। यहां पहुंचने पर सबसे पहले फायर टीम के अधिकारियों ने पानी की बौछार स्वागत में की, तो केक काटा गया और पहली उड़ान में आए अधिकारियों व यात्रियों का भी वेलकम किया गया। इसके बाद करीब पौने 12 बजे हेलिकॉप्टर ने वापस शिमला के लिए उड़ान भरी। भुंतर एयरपोर्ट के निदेशक प्रभाकर मिश्रा ने हवाई सेवा के शुभारंभ मौके पर बताया कि भुंतर से शिमला के लिए 3200 रुपए में इसके जरिए सुविधा मिलेगी, जबकि शिमला से चंडीगढ़ के लिए 2880 रुपए किराया निर्धारित किया गया है। लिहाजा, कुल्लू-मनाली की वादियां निहारने के लिए आने वाले सैलानियों को दिल्ली के साथ चंडीगढ़ व शिमला से भी हवाई सुविधा का लाभ मिलेगा। सेवा आरंभ करने के लिए डीजीसीए ने अप्रैल में एयरपोर्ट का सर्वेक्षण किया था और इसके बाद रूट को ओके किया गया था। इससे पहले शिमला के लिए फरवरी में हेलिटैक्सी सेवा शुरू की जा चुकी है। दूसरे चरण में कुल्लू-मनाली स्थित भुंतर एयरपोर्ट व धर्मशाला को इससे जोड़ा जा रहा है।

यह रहेगा शेड्यूल

एयरपोर्ट निदेशक ने बताया कि उड़ानें सप्ताह में शुक्रवार, शनिवार, सोमवार को होगी। विमान 10ः50 बजे शिमला से उड़ान भरेगा और 11ः40 बजे भुंतर पहुंचेगा। 12 बजे भुंतर से वापसी उड़ान भरने के बाद 12ः50 बजे शिमला पहुंचेगा। पार्वती वैली होटलियर्स संघ के प्रधान किशन ठाकुर व मनाली होटल एसोसिएशन के प्रधान गजेंद्र ठाकुर ने सेवा आरंभ होने पर खुशी जताई है।

You might also like