मणिकर्ण में दिन के समय वोल्वो बसों की नो एंट्री

कुल्लू—धार्मिक एवं पर्यटन स्थल मणिकर्ण के लिए दिन के समय अब वोल्वो बसों नहीं दौड़ेगी। संकरा मार्ग होने के चलते प्रशासन ने जाम से निपटने के लिए प्लान बनाया। उपायुक्त कुल्लू ने बाकायदा अधिसूचना जारी की है। प्रशासन के इस प्लान से दिन के समय जाम की स्थिति नहीं रहेगी। हालांकि कुछ पर्यटन व्यवसायी को यह प्लान रास नहीं आया होगा, लेकिन मणिकर्ण घाटी की आम जनता के  साथ कई टैक्सी चालकों प्रशासन की इस अधिसूचना की सराहना की है। भुंतर-मणिकर्ण मार्ग पर वोल्वो बसें जाने से घंटों तक पर्यटन सीजन में जाम की समस्या पैदा होती है, जिससे कई बार कुल्लू की तरफ मरीज लेकर आ रही 108 आपातकालीन  एबुंलेंसे भी जाम में फंस जाती है। बता दें कि जिला प्रशासन ने भुंतर से मणिकर्ण तक दिन के समय वोल्वो बसों के जाने पर रोक लगा दी है। अब यहां पर शाम आठ से सुबह आठ बजे तक ही वोल्वो बसें जाएंगी। भुंतर से मणिकर्ण 30 किलोमीटर का सफर है। संकरा मार्ग होने के कारण बड़ी वोल्वो बसों के कारण यहां जाम लग जाता है। प्रशासन को मणिकर्ण घाटी के आम लोगों की शिकायतें कई बार मिलती आ रही थीं। यही नहीं, बीते सोमवार को मणिकर्ण के शाट में हुइ जनसभा में पूर्व सांसद महेश्वर सिंह ने लोगों की मांग पर मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर के समक्ष यह मामला रखा। मामला मंत्री के समक्ष आने के बाद जिला प्रशासन ने मणिकर्ण रोड पर दिन के समय वोल्वो बसों के जाने पर रोक के आदेश जारी कर इसकी आने-जाने की समयावधि तय कर दी गई है।  बता दें कि इस मार्ग पर दिन में काफी संख्या में  वोल्वो बसों का आना-जाना लगा रहता है और सड़क की हालत भी ठीक नहीं है। इस कारण जाम लगना हादसा होने का खतरा बना रहता था, जिसकी शिकायत लोगों ने की थी।  बता दें कि भुंतर-मणिकर्ण मार्ग पर पहले भी वोल्वो बसों के आने-जाने पर प्रतिबंध लगाया गया था, लेकिन बाद में वोल्वो बस संचालकों ने मनमर्जी करके यहां पर दिन के समय वोल्वो बसें चलाने शुरू कर दी थीं। इसके बाद जब जाम लगने की समस्या गंभीर हुई तो प्रदेश सरकार के सीआईडी विभाग ने भी इस मामले को प्रशासन व सरकार के समक्ष रखा था। उपायुक्त कुल्लू यूनुस ने बताया कि  भुंतर से मणिकर्ण जाने वाली वोल्वो बसों का टाइम तय किया गया है। यह सुबह आठ से पहले और शाम को आठ के बाद ही इस मार्ग पर जा सकेंगी। सड़क की खराब हालत और यहां लग रहे जाम के चलते लोगों की शिकायत आ रही थी, जिस पर यह निर्णय लिया गया है।

You might also like