मर्डर कर कौशल्या खड्ड में फेंकी थी लाश

सोलन —परवाणू पुलिस ने दस दिन के भीतर ही मर्डर केस को सुलझा लिया है। पुलिस ने मर्डर मिस्ट्री का पर्दाफाश कर तीन को गिरफ्तार किया है। तीनों उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं। तीनों को परवाणू पुलिस ने मंगलवार को कसौली कोर्ट में पेश किया, जहां से इन्हें चार दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। ये सभी परवाणू  के समीप झुग्गी में रहते हैं और मजदूरी करते हैं। पुलिस के अनुसार बीते माह इनका लेनदेन को लेकर शीशपाल से झगड़ा हो गया था।  इसके बाद इन्होंने शराब के नशे में उसकी हत्या कर दी और शव को कौशल्या खड्ड में फेंक दिया। पुलिस ने 34 वर्षीय शीशपाल के शव को बीते माह 26 अप्रैल को बरामद किया था। इसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर तहकीकात शुरू की। पुलिस को जांच में पता चला कि शीशपाल का मोबाइल 20 अप्रैल से ही बंद था। ऐसे में कयास लगाए जा रहे है कि तीनों ने उसकी हत्या 20 अप्रैल को ही कर दी और शव को उसी दिन ठिकाने लगाया होगा।  बताया जा रहा है कि शीशपाल का मर्डर करने के बाद एक पांवटा साहिब भाग गया था। जिसे पुलिस ने शक के आधार पर गिरफ्तार किया था, लेकिन बाद में उसने अपना जुर्म कबूल कर दिया। इनमें से एक बीते सोमवार को मां से मिलने परवाणू पहुंचा। जैसे ही पुलिस को इस बात की भनक लगी तो पुलिस ने तुरंत उसे गिरफ्तार कर दिया। मामले की पुष्टि सब डिविजनल पुलिस आफिसर परवाणू योगेश रोल्टा ने की है। उन्होंने कहा कि तीनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और इन्होंने अपना जुर्म भी कबूल कर लिया है। मंगलवार को सभी आरोपियों को कसौली कोर्ट में पेश किया गया, जहां से इन्हें चार दिन का पुलिस रिमांड मिला है।

You might also like