मसरेहड़  चौक पर हर दिन एक हादसा

गगल —धर्मशाला के सबसे व्यस्त क्षेत्रों में शुमार मसरेहड़ चौक इन दिनों बड़ा ब्लैक स्पॉट बन गया है। चार सडक़ों के सीधे एक जगह मिलने के कारण यह पूरा 90 डिग्री का एंगल बनाता है। इससे यहां हर पल बड़े हादसे का डर रहता है। आए दिन यहां थोड़े-थोड़े समय के बाद गाडिय़ां टकराती रहती हैं। सुबह और शाम के समय तो यहां से राहगीरों का पैदल चलना मुश्किल हो जाता है। शनिवार को भी मसरेहड़ चौक पर एक स्कूटी और एक कार की टक्कर हो गई। गगल थाना प्रभारी नरेश कुमार शर्मा ने बताया कि इंदुु बाला पत्नी अशोक कुमार  निवासी कनेड़ ने गगल थाने में शिकायत दर्ज करवाई है कि जब वह अपने निजी कार्य से अपनी चाची के साथ  स्कूटी से जा रही थी तो मसरेहड़ चौक पर पंजाब नंबर की एक कार जिसे राकेश कुमार  पुत्र परसराम चला रहा था ने उनकी स्कूटी को  टक्कर मार दी। हादसे में घायल रेशमा देवी को उपचार के लिए टांडा ले जाया गया, जहां पर उनका उपचार हो रहा है । थाना प्रभारी ने बताया कि पुलिस ने इंदु बाला की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर लिया है और मामले की जांच जारी है । ज्ञात रहे की मसरेहड़ चौक पर हादसों का होना आम बात हो गई है इसलिए क्षेत्र के लोगों ने प्रदेश सरकार एवं प्रशासन से मांग उठाई है कि शीघ्र इस समस्या का समाधान किया जाए, नहीं तो वह  दिन दूर नहीं जब यहां बड़ा हादसा होगा। पिछली प्रदेश सरकार के कार्यकाल में यहां स्पेशल मिरर लगाने की योजना थी, जो आज तक सिरे नहीं चढ़ पाई।  समाजसेवी डा. कुशल शर्मा व उत्तम डोगरा ने बताया कि प्रदेश सरकार को शीघ्र मसरेहड़ चौक पर मिरर लगाने चाहिएं। इसी तरह पूर्व जिला परिषद सदस्य हरभजन सिंह ने कहा कि मिरर न होने से यहां हादसों का खतरा बढ़ गया है। इस चौक से दिन भर सैकड़ों गाडि़यां गुजरती हैं। चूंकि यहां सडक़ भी तंग है, ऐसे में मिरर होंगे तो हादसों का खतरा कम होगा।

 

You might also like