महासू देव मंदिर को बनाएंगे पांचवां धाम

नेरवा—उत्तराखंड के हनोल स्थित महासू देवता मंदिर को पांचवां धाम घोषित करने के लिए 18 और 19 मई को जौंसार बाबर लोक पंचायत के 250 सदस्य 150 बाइक पर दो सौ पच्चास किलोमीटर से अधिक लंबी जन जागरूकता यात्रा के लिए निकलेंगे। इस यात्रा को भारतीय जल सेना के तट रक्षक कमांडर केआर नौटियाल विकासनगर के बाडवाला स्थित शिव मंदिर से झंडी दिखा कर रवाना करेंगे। यात्रा का नेतृत्व यात्रा संयोजक अनिल तोमर करेंगे व उत्तराखंड सूचना एवं लोक संपर्क विभाग के उप निदेशक केएस चौहान, उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष के सूचना अधिकारी भारत चौहान, जौंसार बाबर लोक पंचायत के संयोजक चंद शर्मा, हनोल धाम महासू महाराज के राजगुरु एवं पच्छवा दून प्रेस क्लब के अध्यक्ष चंद राम राजगुरु सहित कई अन्य गणमान्य लोग इस जन जागरूकता यात्रा में विशेष रूप से शामिल रहेंगे। बता दें कि हनोल स्थित महासू देवता उत्तराखंड के जौंसार बाबर ही नहीं हिमाचल प्रदेश के जिला शिमला, सोलन व सिरमौर के लाखों लोगों के आराध्य देवता हैं। इन क्षेत्रों में महासू देवता के हजारों मंदिर हैं व सैंकड़ों श्रद्धालु प्रतिदिन महासू देवता के मूल निवास हनोल दर्शनों हेतु पहुंचते हैं। इसके अलावा अन्य जिलों एवं राज्यों से भी प्रतिदिन कई श्रद्धालु देवता के दर्शन हेतु हनोल आते हैं। हिमाचल व उत्तराखंड के लोग हनोल महासू मंदिर को उत्तराखंड का पांचवा धाम घोषित किए जाने को लेकर वर्षों से आवाज बुलंद किए हुए हैं। अपनी इस मांग को बुलंद करने के लिए बीते साल से जौंसार बाबर लोक पंचायत द्वारा हर साल 18 व 19 मई को जन जागरूकता बाइक यात्रा निकालने का निर्णय लिया गया है। हिमाचल के श्रद्धालु भी जौंसार बाबर लोक पंचायत की इस मांग का पुरजोर समर्थन करते हुए हनोल को पांचवा धाम घोषित करने की मांग उठा रहे हैं। मंदिर के राजगुरु सीआर राजगुरु ने बताया कि दूसरी जन जागरूकता यात्रा 18 मई को बड़वाला शिव मंदिर से शुरू होकर चकराता, त्यूणी होते हुए हनोल पहुंचेगी। दूसरे दिन 19 मई को प्रातः देव दर्शन के उपरांत यह बाइक जन जागरूकता यात्रा हिमाचल के चौपाल उपमंडल के फेडीज पुल, गुम्मा व मीनस से होते हुए वापस विकासनगर पंहुचेगी। उन्होंने बताया कि यह यात्रा पूरी तरह गैर राजनितिक है व यात्रा का उद्देश्य महासू देवता हनोल को पांचवा धाम का दर्जा दिलवाना, ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को स्वच्छता, आपसी भाईचारे एवं सौहार्द का संदेश देना है। उन्होंने कहा कि 19 मई को हिमाचल में चुनाव है। लिहाजा इस यात्रा के प्रदेश के चौपाल उपमंडल के क्षेत्र से गुजरने के लिए चौपाल प्रशासन से अनुमति मांगी गई है जोकि चौपाल प्रशासन द्वारा दे दी गई है। एसडीएम चौपाल अजीत भारद्वाज ने बताया कि लोक पंचायत द्वारा जन जागरण बाइक यात्रा के लिए अनुमति मांगी गई है। यात्रा गैर राजनीतिक है व इसके पूरी तरह शांतिप्रिय ढंग से निकलने की बात कही गई है। लिहाजा इस यात्रा को प्रशासन द्वारा अनुमति दे दी गई है व इस विषय में पुलिस उपाधीक्षक चौपाल संतोष शर्मा को सूचित कर दिया गया है।

You might also like