महिलाओं से माफी मांगें सिद्धू

भाजपा महिला मोर्चा ने बयान पर जताई कड़ी आपत्ति

धर्मशाला -भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष इंदू गोस्वामी ने प्रधानमंत्री की तुलना नई दुल्हन से करने वाले नवजोत सिंह सिद्धू के बयान की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि इससे उनकी स्त्री विरोधी मानसिकता का पता लगता है। उन्होंने कहा कि सिद्धू का यह बयान उनकी स्त्री विरोधी बीमार मानसिकता को दर्शाता है। एक ओर भारतीय महिलाएं हर क्षेत्र में नई-नई उपलब्धियां हासिल कर रही हैं और सिद्धू उनको केवल अपने स्त्री विरोधी चश्मे से देखते हैं। इस तरह के बयान देकर कांग्रेस पार्टी यह दिखाना चाहती है कि देश व प्रदेश की आधी आबादी कमजोर और गई-गुजरी है। नवजोत सिद्धू को महिलाओं से माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि महिलाओं के प्रति अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल करके नवजोत सिंह सिद्धू ने कांग्रेस के दावों की पोल खोल दी है। कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने हाल ही में पार्टी के गुंडों से परेशान होकर कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया था। उन्होंने आरोप लगाया था कि राहुल गांधी कांग्रेस में महिलाओं के खिलाफ गुंडागर्दी को बढ़ावा दे रहे हैं। भाजपा नेत्री ने कहा कि आज कांग्रेस राजनीति में अपने निम्नतम स्तर तक गिर चुकी है। इस पार्टी के नेताओं को यह भी याद नहीं है कि झांसी की रानी से लेकर आज तक महिलाओं ने घर परिवार की जिम्मेदारी निभाने के साथ-साथ समाज और देश के लिए बड़ी-बड़ी कुर्बानियां दी हैं। उन्होंने कहा महिलाएं आज नरेंद्र मोदी सरकार में विदेश मंत्री और रक्षा मंत्री जैसे अत्यंत महत्त्वपूर्ण पद संभाल रही हैं। आज महिलाएं अपने घर, खेत, पंचायत, दफ्तर, टै्रफिक, सैन्य मोर्चा, विधानसभा और संसद संभालने से लेकर फाइटर विमान तक उड़ा रही हैं। देश के विकास में महिलाओं का योगदान उल्लेखनीय रहा है। आजादी की लड़ाई में भी महिलाओं ने अंग्रेजों से लोहा लिया था। उन्होंने नवजोत सिंह सिद्धू और कांग्रेस नेताओं को महिलाओं को सम्मान करने की सलाह दी। नवजोत सिंह सिद्धू को अपने शर्मनाक बयान के लिए महिलाओं से माफी मांगनी चाहिए।

You might also like