महीने में महज 12 दिन ही पानी

कसौली —सोलन जिला के धर्मपुर उपमंडल के अंतर्गत मसूलखाना उठाऊ पेयजल से ग्रामीणों को महीने में मात्र 12 दिन ही पीने का पानी सप्लाई किया जाता है, जिसके कारण यहां के सैकड़ों ग्रामीणों का आईपीएच विभाग व सरकार के प्रति भारी रोष व्याप्त हो रहा है। यहां के लोगों का कहना है कि ऐसे तो प्रदेश सरकार प्रतिदिन जनता को स्वच्छ पेयजल आपूर्ति की बड़ी बड़ी घोषणा करती रहती है यह सारे दावे यहां पर झूठलाते नजर आते हैं। ग्रामीणों का कहना है कि आईपीएच विभाग ने मसूलखाना उठाऊ पेयजल आपूर्ति का कार्य निजी ठेकेदार को सौंपा है तब से कभी भी लोगों को प्रतिदिन पेयजल आपूर्ति नहीं मिल पाई है। निजी ठेकेदार ने जो यहां पर पेयजल आपूर्ति के लिए अपने कर्मचारी रखे हुए है वे लोगों को एक दिन छोड़कर पानी अपर्याप्त मात्रा में सप्लाई देते हैं व महीने में पांच दिन छुट्टी कर लेते हंै। लोगों ने बताया कि महीने में 30 दिन होते है एक दिन छोड़कर जलापूर्ति देने से 15 दिन सप्लाई होती है, जिसमंे वह पांच दिन हर रविवार को छुट्टी कर देते हैं। इसलिए लोगों को महीने में मात्र दस दिन ही पानी मिल पाता है। यहां के ग्रामीण राधेश्याम, हरदेव, राम सिंह, हेतराम, राज कुमार, माताराम, महिंदर, बलबीर, ताराचंद, धर्मपाल, केशवराम, गुरुदेव, रमेश, आदि ने मुख्यमंत्री से मांग उठाई है कि वह उचित आदेश कर उनके लिए पेयजल आपूर्ति प्रतिदिन बहाल करने की व्यवस्था कराने के लिए कार्रवाई करें। इस संबंध में जब आईपीएच विभाग के धर्मपुर उपमंडल से संपर्क करने का प्रयत्न किया तो पता चला कि कई महीनों से  कार्यालय में सहायक अभियंता ही नहीं उपलब्ध है। बरहाल कुछ भी हो, लोगों को सुचारू रूप से पेयजल आपूर्ति न होने से ग्रामीणों में विभाग व सरकार के प्रति भारी रोष व्याप्त हो रहा है।

You might also like