मही के लोगों ने जाना क्या हैं लोक अदालतें

कंडाघाट -कंडाघाट की ग्राम पंचायत मही में बुधवार को जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण द्वारा एकदिवसीय विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। इस शिविर में एडिशनल सीजेएम सोलन गुरमीत कौर ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की जबकि अधिवक्ता कंडाघाट हमेंदर  वर्मा व  पंचायत के प्रधान नंद किशोर विशेष रूप से उपस्थित रहे। पंचायत के प्रधान नंद किशोर ने मुख्यातिथि के शिविर  में पहुंचने पर पुष्प गुच्छ देकर स्वागत किया व मुख्यतिथि को टोपी पहनाकर सम्मानित किया गया। शिविर के दौरान मुख्यातिथि गुरमीत कौर ने पंचायत से आए महिलाओं व पुरुषों को उनके कानूनी अधिकार क्या है के बारे में जानकारी दी। इस दौरान लोगों को मुफ्त कानून सहायता क्या होती है और इस के क्या फायदे होते हैं, मध्यस्थता व लोक अदालत क्या होती है को लेकर जागरूक किया गया। इसके अलावा उपस्थित लोगों को चिट्टा व चरस का सेवन करने से क्या दुष्परिणाम होते है बारे में बताया गया। साथ ही लोगों को   बच्चों को नशे से दूर रखने का भी आग्रह किया गया। मुख्यातिथि गुरमीत कौर ने शिविर के दौरान कहा कि आज की युवा पीढ़ी नशे कि गिरफ्त में फसती जा रही है। बच्चों को नशे से दूर रखने को लेकर उन पर निगरानी रखनी जरूरी है। इस के अलावा कंडाघाट कोर्ट से आए अधिवक्ता हमेंदर वर्मा ने भी लोगों को उनके कानूनी अधिकार क्या है के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने महिलाओं को बताया कि सूर्य उदय होने से पहले व सूर्य अस्त के बाद महिलाओं को गिरफ्तार नहीं किया जा सकता।

25 लोगों को प्रमाण पत्र देकर किया सम्मानित

एडिशनल सीजेएम सोलन गुरमीत कौर ने इस शिविर के दौरान पंचायत के ऐसे 25 लोगों को प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया। जिन लोगों ने हाई कोर्ट द्वारा व प्रदेश सरकार द्वारा चलाए गए सफाई अभियान में व्यक्तिगत व आर्थिक रूप से   भाग लिया । इस दौरान इस पंचायत के लोगों ने अपनी पंचायत क्षेत्र में  राष्ट्रीय राज मार्ग, गांव, पंचायत परिसर व रेलवे ट्रेक पर सफाई की गई थी।

You might also like