मालरोड पर कांग्रेस का कब्जा

सोलन में कल रैली मोदी की, पर 17 को राहुल की सभा के लिए एडवांस में लग गए झंडे

सोलन – सोलन में 13 मई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली बेशक पहले है, परंतु कांग्रेस ने 17 मई को राहुल गांधी की रैली के लिए पूरे मालरोड व शहर के प्रमुख स्थानों पर पार्टी के झंडे एडवांस में लगाकर एक तरह से प्रचार पर कब्जा कर लिया है। पूरे मालरोड पर कांग्रेस पार्टी के झंडे लहरा रहे हैं तथा यह क्रम अन्य जगहों पर भी जारी है। हालांकि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की सोलन के पुलिस ग्राउंड में 17 मई को रैली प्रस्तावित है, लेकिन एडवांस में प्रचार की पैनीधार करके कांग्रेस ने राजनीतिक माहौल में गर्माहट ला दी है। सोलन में सोमवार 13 मई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली है। यह ठोडो ग्राउंड में आयोजित की जाएगी। रैली में भारी संख्या में भीड़ जुटाने के लिए प्रदेश भाजपा के आला नेताओं सहित स्थानीय पदाधिकारियों ने कमर कस ली है। कुल एक लाख ग्यारह हजार का लक्ष्य निर्धारित कर भाजपा प्रधानमंत्री को एक शगुन के रूप में यह तोहफा देना चाहती है। बड़े-बड़े बैनरों से शहर सजाया जा रहा है तथा भगवा रंग की कुर्सियों व टेंट का सहारा भाजपा के प्रतीक को जनता के बीच परोसने की तैयारी है, लेकिन थोड़ा समय ही शेष है तथा कांग्रेस ने एडवांस में सभी प्रमुख स्थलों पर अपने झंडे लगाकर भाजपाइयों को सकते में डाल दिया है। कांग्रेस ने विशेष रणनीति के तहत उस क्षेत्र को अधिक टारगेट किया है, जहां से 13 मई को प्रधानमंत्री के कारवां को सभा स्थल तक पहुंचना है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का हेलिकाप्टर सेना के हेलिपैड पर उतरेगा तथा वहां से वह वाहनों के काफिले के साथ ठोडो ग्राउंड में पहुंचेंगे। इसी रास्ते को कांग्रेस ने पार्टी के झंडों से पाट दिया है। कांग्रेस जिला अध्यक्ष शिव कुमार ने कहा कि जिन दुकानों व घरों पर पार्टी के झंडे लगाए गए हैं, उनसे अनुमति ली गई है। पार्टी के पांच हजार झंडे सोलन शहर में लगाए गए हैं।

You might also like