मिठाइयों के  सैंपल फिर फेल

शिमला —शिमला में मिठाइयों के सैंपल फिर फेल हो गए हैं। खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता को लेकर जिला खाद्य निरीक्षक द्वारा राजधानी की दुकानांे से सैंपल उठाए गए थे, जिसकी रिपोर्ट मंे मिठाइयांंे की रिपोर्ट फेल आई है। जानकारी के मुताबिक संबंधित दुकानदारांे को सैंपल फेल होने के  मामलांे को लेकर नोटिस जारी कर दिए गए हैं। बताया जा रहा है कि जो सैंपल फेल हुए हैं उसमंे ड्राई पेठा, सोन पापड़ी का सैंपल सब-स्टैंडर्ड आया है। इसमंंे खासतौर पर चीनी मंे मिलावट के तत्व मिले हैं, जिसमंे आगामी कार्रवाई अपनाई जाने वाली है। गौर हो कि हैल्थ एंड सेफ्टी रेगुलेशन डिपार्टमंेट के माध्यम से जिला खाद्य निरीक्षक द्वारा सैंपल जांच की जा रही है। हालांकि प्रदेश मंे पहले से ही खाद्य निरीक्षकांे की संख्या बेहद कम है वहीं सैंपल फेल होने के मामले भी अब प्रकाश मंे आने लगे हैं, जिसमंे शिमला मंे समय दर समय छापामारी की जा रही है। फिलहाल राजधानी के लोगांे को ही नहीं बल्कि शिमला घूमने आए पर्यटकांे को भी स्वास्थ्य को लेकर अलर्ट रहना होगा क्यांेकि  त्योहारांे के समय शिमला मंे मिठाइयांे का प्रयोग बेहद ज्यादा रहता है। यही नहीं इस बात को डाक्टर भी मानते हैं कि सब-स्टैंडर्ड मिठाइयांे और घी के प्रयोग से शरीर पर दुष्प्रभाव पड़ सकता है। आईजीएमसी के डाक्टर प्रवीण भाटिया का कहना है कि खाद्य पदार्थ का सेवन यदि उसके गुणांे के आधार पर नहीं किया गया तो यह व्यक्ति को बीमार भी कर सकता है। उन्हांेने कहा कि यदि पदार्थ मंे मिलावट हो तो वह शरीर के अंगांे को भी प्रभावित कर सकती है। संबंधित अधिकारियांे के मुताबिक शिमला से लगभग दस सैंपल लिए गए थे, जिसमंे दो सैंपल फेल हुए हंै। अभी कार्रवाई मंे दुकानदारांंे से जवाब मांगा गया है।

You might also like