मेडिकल कालेज में जल्द भरे जाएं डाक्टरों के पद

शिमला -मेडिकल कालेजों में समय पर डीपीसी ही नहीं हो पा रही है। खासतौर पर प्रदेश के नए मेडिकल कालेज इस परेशानी से जूझ रहे हैं। समय पर डीपीसी होती है, तो इससे खाली पदों को जल्द ही भरा जा सकेगा। यह मुद्दा प्रदेश मेडिकल ऑफिसर एसोसिएशन ने सरकार के समक्ष उठाया है। जानकारी के मुताबिक मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया अभी कई बार सर्वेक्षण के लिए संबंधित मेडिकल कालेज आएगी, जिसके लिए जरूरी है कि खाली पदों को जल्द से जल्द भरा जा सके। एसोसिएशन का कहना है कि यह मामला मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री के समक्ष कई बार उठाया जा चुका है, लेकिन अभी तक इसमें कोई आगामी कार्रवाई नहीं हो पाई है। अब दोबारा से मेडिकल कालेजों की हालत देखकर यह मुद्दा उठाया जा रहा है। संघ के महासचिव डा. पुष्पेंद्र ने कहा है कि प्रदेश में नए मेडिकल कालेज को मजबूती देनी हो, तो उसके लिए डीपीसी करना आवश्यक है। डा. पुष्पेंद्र ने कहा कि निःशुल्क दवाआें के मेडिक ल रिइंबर्समेंट के बिलों के भुगतान पर भी रोक लगाई जाए।

You might also like