मेरा सबसे मुश्किल विश्वकप: विराट

 

मेरा सबसे मुश्किल विश्वकप: विराट

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि विश्वकप-2019 उनके करियर का सबसे चुनौतीपूर्ण आईसीसी टूर्नामेंट होगा। विराट के नेतृत्व में 15 सदस्यीय टीम 30 मई से इंग्लैंड एंड वेल्स में विश्वकप खिताब की दावेदार के तौर पर उतरेगी। आईसीसी टूर्नामेंट के लिये रवाना होने से पूर्व भारतीय टीम के राष्ट्रीय कोच रवि शास्त्री संग कप्तान विराट ने मंगलवार को यहां संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया।  विराट के करियर का यह तीसरा विश्वकप है लेकिन बतौर कप्तान यह उनका पहला विश्व टूर्नामेंट है। कप्तान ने कहा,“मेरे लिये यह अब तक का सबसे चुनौतीपूर्ण विश्वकप है जहां कोई भी टीम किसी भी टीम को उलटफेर का शिकार बना सकती है। हर टीम को परिस्थितियों के अनुरूप खुद को जल्द ही ढालना होगा। हम विश्वकप में हर प्रकार के स्कोर वाले मैच के बारे में सोच सकते हैं।” भारतीय टीम की संभावनाओं पर उन्होंने कहा,“यदि हम पूरी ताकत के साथ खेलें तभी हम कुछ सोच सकते हैं। इंग्लैंड की पिचें सपाट हैं लेकिन इंग्लैंड में मौसम की परिस्थितियां भी मायने रखती हैं। यदि आप लंदन जाएं तो आपको अपनी तैयारियों में लचीलापन लाने की जरूरत होगी। हमारी टीम अनुभवी है और सभी एक दूसरे के साथ अच्छा तालमेल रखते हैं।”

 

You might also like