मेहमानों के स्वागत को हिल्सक्वीन तैयार

शिमला—मुख्य सचिव बीके अग्रवाल ने कहा कि पहाड़ों की रानी शिमला में गर्मियों के मौसम में अपने वैभव और उल्लास के साथ सैलानियों को लुभाने के लिए पूरी तरह से तैयार है। उन्होंने कहा कि स्थानीय प्रशासन ने पर्यटन क्षेत्र के हितधारकों के साथ मिलकर इस संबंध में सभी व्यवस्थाएं पूरी कर ली हैं।  उन्होंने शिमला में जलापूर्ति की समीक्षा की और कहा कि शिमला के निवासियों को अब प्रतिदिन पानी की पर्याप्त आपूर्ति की जा रही है। इस वर्ष जल प्रबंधन निगम लिमिटेड एसजेवीएनएल शिमला के लिए प्रतिदिन 45 से 50 एमएलडी पानी उठा रहा है, जो कि पिछले वर्ष मई महीने के दौरान 28 एमएलडी की तुलना में स्थानीय निवासियों और पर्यटकों की मांग को पूरा करने के लिए पर्याप्त है। उन्होंने कहा कि सप्ताहांत पर पर्यटकों की संख्या को देखते हुए पानी की मात्रा को बढ़ाकर 55 से 60 एमएलडी किया जा रहा है ताकि पर्यटकों को पर्याप्त पानी मिल सके। उन्होंने कहा कि जलापूर्ति में वृद्धि पुराने पंपों को बदलकर उच्च क्षमता वाले पंपों को लगाने तथा बेहतर फिल्टरेशन प्रणाली स्थापित करने के कारण ही संभव हुआ है। अतिरिक्त मुख्य सचिव पर्यटन राम सुभग सिंह ने कहा कि सरकार ने इस पर्यटन सीजन के दौरान पर्यटकों की सुविधा के लिए कई सकारात्मक कदम उठाए हैं, जिसमें पानी, पार्किंग, यातायात प्रबंधन आदि की समस्याओं से निपटने के लिए आवश्यक प्रबंध किए गए हैं। उन्होंने कहा कि शिमला के अलावा कुफरी, मशोबरा, नालदेहरा, चायल जैसे आसपास के गंतव्य भी इस वर्ष पर्यटकों के स्वागत के लिए पूरी तरह तैयार हैं। उन्होंने कहा कि पर्यटकों की सुविधा के लिए शिमला में अब 1000 से अधिक वाहनों के लिए नए पार्किंग स्थल स्थापित किए गए हैं।

रात साढ़े 11 बजे तक चलेगी लिफ्ट

कार्ट रोड से मालरोड तक जाने वाली एचपीटीडीसी की लिफ्ट पर्यटक सीजन के दौरान रात 11ः30 बजे तक कार्य करेगी। इसके अलावा पर्यटन सीजन के दौरान पर्यटकों के आकर्षण के लिए नियमित रूप से सेना, पुलिस, होमगार्ड बैंड व निजी बैंड तथा सांस्कृतिक प्रदर्शन का आयोजन रिज, माल रोड और अन्य चयनित स्थानों पर किया जाएगा। अतिरिक्त मुख्य सचिव पर्यटन राम सुभग सिंह ने कहा कि पर्यटन इकाइयों के निरीक्षण के लिए पर्यटन अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए हैं ताकि पर्यटकों से अनुमोदित दरों से अधिक दाम न वसूले जाएं। प्रशासन ने शहर में ट्रैफिक की समस्या से निपटने के लिए मुख्य सड़क पर यातायात की भीड़ को कम करने के लिए आवश्यक प्रबंध किए हैं। उन्होंने कहा कि पर्यटन सीजन के दौरान अतिरिक्त पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है ताकि वे शहर में आने वाले पर्यटकों का मार्गदर्शन कर सकें।  

You might also like