मोदी मंत्रिमंडल में लगेगी हिमाचल की लॉटरी

आज होने वाले शपथ समारोह के लिए प्रदेश की उम्मीदें जेपी नड्डा, अनुराग व कपूर पर

शिमला – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गुरुवार को होने वाले शपथ समारोह के लिए हिमाचल प्रदेश की नजरें हिमाचल के संभावित मंत्री को ढूंढ रही हैं। मोदी और शाह के अलावा  किसी तीसरे व्यक्ति को इसकी भनक तक नहीं है। इस कारण हर कोई अलग-अलग कयास लगा कर मंत्रिमंडल में हिमाचल प्रदेश को प्रतिनिधित्व दे रहा है। सियासी पंडितों की नजर में हमीरपुर के सांसद अनुराग ठाकुर और कांगड़ा से रिकार्ड मतों से निर्वाचित हुए खाद्य मंत्री किशन कपूर में से कोई एक मोदी मंत्रिमंडल का चेहरा हो सकते हैं। आमजन की जुबान पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा की वापसी का राग है।  इसी बीच हिमाचल का स्थान अगर खाली भी रहता है तो चौंकाने वाली बात नहीं होगी। जाहिर है कि इस बार के मंत्रिमंडल में हिमाचल की तरफ से तीन नेता मंत्रिमंडल में शामिल होने के लिए  प्रबल दावेदार बने हैं। पिछली बार वर्ष 2014 की मोदी-1 सरकार में शांता कुमार तथा अनुराग ठाकुर की मंत्रिमंडल में शामिल होने के दावे किए जा रहे थे। नेशनल मीडिया में शांता तथा अनुराग का नाम प्रमुखता से उठाया जा रहा था। बड़े-बड़े टीवी चैनलों ने इन दोनों मंत्रियों को पोर्टफोलियो तक बांट दिए थे। इसके विपरीत शपथ समारोह में हिमाचल के किसी भी नेता को कैबिनेट में स्थान नहीं मिला था। इस कारण शांता-अनुराग की दावेदारी को खबरनवीस मंत्रिमंडल के अगले विस्तार तक खींचते रहे। जाहिर है कि मोदी के मंत्रिमंडल के विस्तार में इन दोनों की बजाए राज्य सभा के नामित हुए जगत प्रकाश नड्डा को स्थान दिया गया था। इस कारण मोदी-1 सरकार में सभी सियासी पंडितों की भविष्यवाणियां हवा-हवाई हो गई थीं। इस बार भी लॉटरी किसकी लगेगी, अभी तक यह स्पष्ट नहीं है। जेपी नड्डा और अनुराग का नाम सबसे आगे माना जा रहा है। हालांकि हिमाचल की शांता, वीरभद्र, धूमल तथा जयराम सरकार में धर्मशाला का प्रतिनिधित्व कर चुके किशन कपूर के पास राजनीति का लंबा अनुभव है। तीन बार हिमाचल में मंत्री रह चुके किशन कपूर के लिए ट्राईबल नेता का तमगा मोदी सरकार में दावेदारी पेश कर रहा है। इसके अलावा गुरू शांता तथा मुख्यमंत्री जयराम की नजदीकियां उन्हें लाभ दे रही है।

बड़ी जिम्मेदारी की आस

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा को राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाए जाने की चर्चा है। इसके अलावा उनके मोदी-2 सरकार में शामिल होने के कयास लग रहे हैं। जेपी नड्डा का केंद्रीय राजनीति में प्रभावशाली कद संगठन तथा सरकार में दोनों में भागीदारी के लिए प्रबल दावेदारी कर रहा है। उत्तर प्रदेश में इस बार मिली प्रचंड जीत का श्रेय जेपी नड्डा को मिल रहा है। संगठन में उनके बेहतर कामकाज की बदौलत भाजपा मजबूत भी हुई है। 

मिलेगा शाह का आशीर्वाद

हमीरपुर से चौथी बार रिकार्ड मतों से निर्वाचित हुए सांसद अनुराग ठाकुर का कद केंद्रीय नेता का बन चुका है। विजन तथा एक्सपोजर के मामले में अनुराग ठाकुर सब पर भारी पड़ रहे हैं। इसके अलावा भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह खुद अनुराग ठाकुर के समर्थन में उन्हें बड़ा नेता बनाने का ऐलान कर चुके हैं। बीसीसीआई की टॉप पाजीशन हासिल करने वाले अनुराग ठाकुर तीन बार भाजयुमो के राष्ट्रीय अध्यक्ष रह चुके हैं।

You might also like