मौका दो…दिल्ली में मैं बनूंगा आपकी आवाज

ऊना में रामलाल ठाकुर की अपील, राहुल की रैली में भीड़ जुटाकर कांग्रेस ने दिखाई एकजुटता

ऊना -ऊना में आयोजित राहुल गांधी की रैली कांग्रेस के लिए टॉनिक का काम कर गई। राष्ट्रीय अध्यक्ष के साथ मंच पर जुटे कांगे्रसियों ने एकता का परिचय देकर जनता में जबरदस्त संदेश दिया है। इसी दौरान राहुल गांधी ने कद्दावर कांग्रेस नेता और हमीरपुर संसदीय सीट से पार्टी प्रत्याशी रामलाल ठाकुर की पीठ थपथपाकर केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। चुनावी रैली में कांग्रेस प्रत्याशी रामलाल ठाकुर ने भाजपा पर तीखे प्रहार कर राष्ट्रीय अध्यक्ष के सामने अपने कौशल और हुनर का लोहा मनवाया। उन्होंने जनसभा को संबांेधित करते हुए कहा कि उन्हें विश्वास है कि इस बार-बार जनता किसी के बहकावे में नहीं आएगी। यदि उन्हें जनता का आशीर्वाद मिला तो वह जोर-शोर सेसंसद में आम जनता की आवाज उठाएंगे। आम जनता के हितों की अनदेखी नहीं होगी। उन्होंने आरोप लगाया कि हमीरपुर लोकसभा चुनाव क्षेत्र में सांसद निधि के पैसे का दुरुपयोग हुआ है। पैसा आम जनता पर खर्च होने के बजाए एसवीएम स्कूलों पर खर्च किया गया, जो कि आम जनता के हितों की अनदेखी है। रामलाल ठाकुर ने कहा कि सांसद ने तो माननीय न्यायालय में भी झूठा हल्फनामा दिया। इसके चलते बाद में उन्होंने न्यायालय से माफी भी मांगी है। उन्होंने कहा कि भाजपा की गलत नीतियों के चलते पूर्व मुख्यमंत्री को भी विधानसभा चुनावों में हार का मुंह देखना पड़ा। उन्होंने कहा कि जवाहर लाल नेहरू नहीं होते तो हिमाचल नहीं होता। इंदिरा गांधी नहीं होतीं तो हिमाचल देश का 18वां राज्य नहीं बन पाता। उन्होंने कहा कि प्रदेश में विकास कांग्रेस सरकार की देन हैं। जब भी प्रदेश में कांग्रेस सरकार आई है विकास को प्राथमिकता दी गई है। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि कांग्रेस को समर्थन दें। ताकि लोगों के हितों की लड़ाई लड़ी जा सके। 

राहुल गांधी की रैली…. कब क्या हुआ

  1. मंच पर कांग्रेस नेता राष्ट्रीय कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को हार पहनाकर सम्मानित कर रहे थे तो पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह कुर्सी पर ही बैठे हुए थे। कांग्रेस नेताओं द्वारा इस ओर ध्यान नहीं दिए जाने के चलते स्वयं राहुल गांधी ने पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह को सम्मान सहित बुलाया।
  2. राहुल गांधी ने वीरभद्र सिंह का हाथ पकड़कर स्वयं उन्हें कुर्सी तक भी पहुंचाया।
  3. राहुल गांधी ने वीरभद्र सिंह को स्वयं मंच तक पहुंचाया। वहीं, वीरभद्र सिंह का भाषण समाप्त हुआ तो भी उनका हाथ पकड़कर कुर्सी तक पहुंचाया।
  4. राहुल गांधी ने वीरभद्र सिंह को स्वयं पीने के पानी की बोतल दी।
  5. पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह अपने संबोधन में कांग्रेस प्रत्याशी के लिए वोट करने की अपील करना भूल गए, लेकिन भाषण समाप्त होने के बाद उन्होंने दोबारा मंच से आकर कांग्रेस प्रत्याशी रामलाल ठाकुर को जिताने की अपील की।
  6. राष्ट्रीय कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने करीब 23 मिनट भाषण दिया।
  7. प्रदेश कांग्रेस प्रभारी रजनी पाटिल, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सुखबिंद्र सिंह सुक्खू, राष्ट्रीय कांग्रेस सचिव आशा कुमारी को मंच से बोलने का मौका नहीं मिला।
  8. वीरभद्र सिंह का भाषण खत्म होने पर राहुल गांधी वीरभद्र सिंह से गले मिले।
  9. राहुल गांधी को कांगे्रेस नेताओं ने मां चिंतपूर्णी का चित्र और चुनरी भेंट कर सम्मानित किया।
You might also like