मौहल मेले में ‘अधिया मंगाई जा रे’

कुल्लू—मौहल में देवता आदि ब्रह्मा, देवता रणपाल, देवता वीरनाथ, देवता जवाणी महादेव, माता नैणा के सम्मान में मेला मनाया जा रहा है। मेले में जहां देवताओं का भव्य देव मिलन मुख्य आकर्षण का केंद्र रहा, वहीं, सांस्कृतिक संध्या में हिमाचली कलाकारों ने खूब रंग जमाया। मेले की पहली सांस्कृतिक संध्या में हैवन ग्रुप के सीएमडी जितेंद्र ठाकुर ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। पंचायत के प्रधान, उपप्रधान, बीडीसी सदस्य व वार्ड सदस्य ने मुख्यातिथि का जोरदार स्वागत किया। ग्राम पंचायत मौहल की प्रधान उमा देवी ने मुख्यातिथि को कुल्लवी परंपरा के अनुसार शाल व टोपी पहनाकर व उपप्रधान शिव सिंह नेगी ने मुख्यातिथि को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। बीडीसी सदस्य व अन्य वार्ड सदस्यों द्वारा मुख्यातिथि के साथ पधारे अतिथियों को भी टोपी पहनाकर सम्मानित किया गया। मेले में लोक कलाकार हेमराज राज, वरुण, लक्ष्मी ठाकुर, रमना भारती आदि लोक गायकों ने अपने गीतों से लोगों को नाचने पर मजबूर कर दिया। प्रसिद्ध लोक गायक एसी भारद्वाज ने अपने गीतों से सांस्कृतिक संध्या में रंग जमा दिया। एसी भारद्वाज ने कुल्लू-मनाली लागा मेला, एक अधिया मंगाई जा रे, सुरमणिए, लोभ लागा तेरा गे बांकी पड़ोसने आदि गाने गाकर सबको झुमाने में कसर नहीं छोड़ी। वहीं, उपप्रधान शिव सिंह नेगी ने पहली सांस्कृतिक संध्या को आयोजित करवाने के लिए हैवन ग्रुप के सीएमडी जितेंद्र ठाकुर का आभार जताया। वहीं मेले में बतौर मुख्यातिथि पधारे हैवन ग्रुप के सीएमडी जितेंद्र ठाकुर ने कहा कि मेले हमारी देव संस्कृति के प्रतीक हंै और हैवन गु्रप पिछले कई वर्षों से हिमाचल की देव संस्कृति एवं मेलों को संरक्षित करने में अहम भूमिका निभा रहा है। साथ ही उन्होंने हैवन ग्रुप की ओर से सभी लोगों को मौहल मेले की बधाई दी।

You might also like