राणा ने सांसद को दिखाया हमीरपुर का रास्ता

कांग्रेस प्रत्याशी बोले, विदेशों का सैर सपाटा कर मौजमस्ती करते रहे सांसद को दिलाई याद, जनता ताकती रही विकास

बिलासपुर—हमीरपुर जिला के दौरे में कांग्रेस प्रत्याशी रामलाल ठाकुर ने कहा कि जनता जनार्दन ने मुख्यमंत्री घोषित होने के बावजूद प्रेम कुमार धूमल को घर बिठा दिया था और अब बीजेपी सांसद अनुराग ठाकुर की बारी है। कांग्रेस नेता एवं समाजसेवी राजेंद्र राणा वह व्यक्तित्व हैं जिन्होंने धूमल परिवार की नींद उड़ा दी और विदेशों का सैर सपाटा कर मौजमस्ती कर रहे अनुराग ठाकुर को हमीरपुर का रास्ता दिखाने के लिए विवश कर दिया। कांग्रेस प्रत्याशी रामलाल ठाकुर ने सोमवार को हमीरपुर जिला के नादौन हलके के दौरे के दौरान पूर्व अध्यक्ष सुखविंदर सुक्खू के साथ विभिन्न क्षेत्रों मंे आयोजित नुक्कड़ सभाओं को संबोधित किया। उन्होंने धूमल परिवार पर कड़े हमले किए। उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा कि हैरानी भरा यह है कि विदेशों दौरों में तो अनुराग ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी पीछे छोड़ दिया है। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव मंे धूमल की हार के लिए अनुराग ही जिम्मेदार हैं, क्योंकि खुद तो विदेशों की सैर करते रहे और जनता विकास की राह ताकती रही। सांसद निधि का पैसा भी विकास कार्यों पर खर्च नहीं किया गया, जिसके चलते कुछ पैसा वापस हुआ है। इसके लिए सांसद ही दोषी हैं। जब खुद मौजमस्ती में व्यस्त रहे और अनुराग की नाकामियों की वजह से जनता ने धूमल को घर बिठा दिया तो उन्हें अब लोकसभा चुनाव के नजदीक हमीरपुर संसदीय क्षेत्र की याद आई। ऐसे में वह किस मुंह से जनता के बीच जाकर वोट मांग रहे हैं। जब जनता को उनकी जरूरत थी, तब तो नहीं आए। रामलाल ठाकुर ने आरोप लगाया कि अनुराग कथित भ्रष्टाचार के मामलों मंे भी संलिप्त रहे हैं। बीसीसीआई मंे रहते हुए भी उन पर सुप्रीम कोर्ट की अवमानना के आरोप लगे, जिसके चलते बाद में उन्हें सुप्रीम कोर्ट मंे माफी मांगनी पड़ी थी। क्या जनता ऐसे सांसद को फिर से स्वीकार करेगी जो विवादित रहा हो। रामलाल ठाकुर ने भाजपा के सांसद अनुराग ठाकुर को उन्हीं के राष्ट्रीय अध्यक्ष के बयानों पर घेरा है। उन्होंने कहा कि अगर शाह अनुराग को बड़ा नेता बनाने की बात कर रहे है तो फिर बिलासपुर के जेपी नड्डा का भाजपा में क्या कद रह जाएगा। भाजपा पहले ही बिलासपुर के साथ भेदभाव करती आ रही है, लेकिन अब अनुराग को बड़ा नेता बना कर एक बार फिर से बिलासपुर के साथ भेदभाव किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अब बिलासपुर के लोगों को तय करना है कि उन्हें नड्डा बड़े नेता के रूप में चाहिए या फिर अनुराग ठाकुर। उन्होंने कहा कि हालांकि भाजपा भी नहीं चाह रही है कि अनुराग ठाकुर इस बार चुनाव में जीत दर्ज करें, जिसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि जहां पहले लोगों ने सीएम पद के लिए प्रोजेक्ट होने के बाद भी प्रदेश कुमार धूमल को बाहर का रास्ता दिखाया। अब लोगों ने अनुराग ठाकुर को भी बाहर का रास्ता दिखाने का मन बना लिया है।

अधिकारी-कर्मचारी बने हैं भाजपा के एजेंट

रामलाल ठाकुर ने आरोप लगाया कि सरकारी अधिकारी भी भाजपा के एजेंट के रूप में काम कर रहे है। उन्होंने कहा कि कई मामलों में कांग्रेस की शिकायत के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। पूरा का पूरा सरकारी तंत्र भाजपा के चुनाव एजेंट के रूप में काम रहा है। कहा कि भाजपा ने पूरे के पूरे चुनाव को हाईजैक कर रखा है।

कौन सा बड़ा पद देने जा रहे हंै शाह, लोगों को बताएं

उन्होंने कहा कि अनुराग ठाकुर को क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष होते हुए सुप्रीम कोर्ट ने भ्रष्टाचार के मामले में पद से हटा दिया था। इसके बाद अमित शाह ने उन्हें युवा मोर्चा के अध्यक्ष पद से भी हटा दिया था। सुप्रीम कोर्ट ने भी अनुराग पर बीसीसीआई के किसी भी पद पर नियुक्त करने रोक लगा रखी है। अब शाह बताएं कि अनुराग को कौन सा बड़ा पद देने जा रहे है।

You might also like