रामलाल बोले; भाजपा ने कुचली बिलासपुर की लीडरशिप

कांग्रेस प्रत्याशी ने धूमल-अनुराग पर किया हमला; कहा, जनता का नहीं, अपना विकास किया

बिलासपुर – कांग्रेस के प्रत्याशी रामलाल ठाकुर ने कहा कि भाजपा नेता एवं पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल व प्रत्याशी अनुराग ठाकुर अपने ही पार्टी के नेता नरेंद्र मोदी के मंडी रैली में दिए गए इशारे के बाद बुरी तरह से हताश हो गए हैं। जब मोदी ही नहीं चाहते हैं कि अनुराग ठाकुर जीते तो उनके बगल में बैठने वाले पार्टी के अमित शाह अनुराग ठाकुर को जिताने की कोशिश की जुर्रत कैसे कर सकते हैं। रामलाल ठाकुर ने कहा कि धूमल व अनुराग को इस संसदीय चुनाव में उनके किए की सजा देने के लिए हलके की जनता पूरी तरह से तैयार बैठी है। प्रेम कुमार धूमल व अनुराग ठाकुर ने सिर्फ अपना ही विकास किया है और शून्य से शुरू होकर धनकुबेर बनने तक की यात्रा पूरी कर ली है। दोनों बाप-बेटों की हालत ऐसी है कि उन्हें अपने जिला में ही लोगों का समर्थन नहीं मिल रहा है। प्रेम कुमार धूमल ने अगर बड़े पदों पर रहते हुए अपने जिला हमीरपुर के लिए कुछ किया होता तो उन्हें अपने ही जिला में मुख्यमंत्री घोषित किए जाने के बावजूद शर्मनाक हार का सामना नहीं करना पड़ता। रामलाल ठाकुर ने धूमल का हारना ही इस बात को प्रमाणित कर गया है कि इस परिवार ने अपने जिला के लोगों के साथ भी अब तक विकास की दृष्टि से सही सलूक नहीं किया है। बिलासपुर में रामलाल ठाकुर ने कहा कि जब अनुराग ठाकुर व प्रेम कुमार धूमल अपने ही गृह जिला में अपने अतीत के कर्मों के कारण खाली हाथ हैं तो बिलासपुर से अब दोनों क्या मांगने आ रहे हैं। रामलाल ने कहा कि धूमल ने मुख्यमंत्री रहते हुए बिलासपुर की लीडरशिप को दबाने और कुचलने के अलावा कोई काम नहीं किया। बिलासपुर के लोग आज तक नहीं भूले हैं कि उनकी अपनी पार्टी के बिलासपुर जिला के वरिष्ठ नेता जेपी नड्डा को प्रेम कुमार धूमल ने अपनी सरकार के कार्यकाल में किस तरह से दरकिनार करके उन्हें कैबिनेट स्तर का मंत्री पद छोड़ने तक के लिए मजबूर कर दिया था। रामलाल ने कहा कि धूमल व अनुराग के दिए गए जख्मों को न तो बिलासपुर के लोग भूले हैं और न ही हमीरपुर की जनता। अब ऐसे में हमीरपुर संसदीय हलके की जनता अब प्रेम कुमार धूमल के बाद अनुराग ठाकुर से छुटकारा चाहती है। रामलाल ठाकुर ने कहा कि सिर्फ बिलासपुर के भाजपा नेता ही नहीं, बल्कि हमीरपुर जिला के भाजपा नेता भी पिता-पुत्र की सत्ता के दौर में मिले घावों को नहीं भुला पाई है। दोनों ने खुद को सत्ता पर काबिज रखने के लिए किसी भी नेता को उभरने का मौका नहीं दिया, जिसका नतीजा है कि आज दोनों बाप-बेटा भाजपा के भीतर ही बुरी तरह से अकेले पड़ गए हैं। रामलाल ने कहा कि प्रेम कुमार धूमल व अनुराग ठाकुर के छलावे को अब बिलासपुर व हमीरपुर की जनता समझ चुकी है और उनके किसी भी प्रयास को सिरे से नकारने के लिए तैयार बैठी है। रामलाल ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की ऊना रैली के बाद पिता-पुत्र के हौसले टूट गए हैं और अब वह अंधेरे में तीर मारने की कोशिश करके जनता को चुनाव को लेकर गुमराह करने की कोशिशों में लगे हुए हैं, ताकि अनुराग ठाकुर की हार का आंकडा शर्मनाक होने से बचाया जा सके।

रामलाल ठाकुर ने डेरा प्रमुख बाबा गुरिंद्र से लिया आशीर्वाद

शनिवार को हमीरपुर सांसदीय क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी रामलाल ठाकुर राधा स्वामी सत्संग व्यास में डेरा प्रमुख बाबा गुरिंदर सिंह ढिल्लों से आशीर्वाद लेने पहुंचे। जहां पर बाबा जी ने उन्हें आशीर्वाद दिया। रामलाल ठाकुर ने बताया कि डेरा व्यास में जाकर उन्हें बड़ा सुकून मिला तथा बाबा जी आशीर्वाद लिया। गौरतलब है कि डेरा व्यास में बाबा जी के दर्शनों के लिए तथा आशीर्वाद लेने के लोगों को कई कई दिन तक इंतजार करना पड़ता है रामलाल ठाकुर बड़े ही सौभाग्यशाली व्यक्ति है जिन्हें बाबा जी अपने पास बैठा कर दर्शन व आशीर्वाद दिया।

You might also like