रेणुकाजी से भाजपा को 15832 की मिली लीड

नाहन—लोकसभा चुनावों में कांग्रेस की परंपरागत मानी जाने वाली रेणुकाजी विधानसभा क्षेत्र मंे शिमला संसदीय सीट के भाजपा प्रत्याशी सुरेश कश्यप को 15,832 वोट की लीड मिलने से मोदी फैक्टर यहां पूरी तरह काम कर गया है, जबकि दो पूर्व विधायकों की वापसी से भी रेणुकाजी हल्का मजबूत हुआ है। विधानसभा चुनावों में साढ़े 12 हजार वोट प्राप्त करने वाले निर्दलीय पूर्व विधायक हृदय राम की वापसी से निश्चित रूप से भाजपा को रेणुकाजी मंे फायदा हुआ दिखा है। गौर हो कि डेढ़ वर्ष पूर्व के विधानसभा चुनावों में कांग्रेस ने रेणुकाजी हल्के से 5160 की बढ़त से विधानसभा चुनावों में लीड प्राप्त की थी, जबकि यहां त्रिकोणीय मुकाबला बना था, मगर लोकसभा चुनावों मंे भाजपा ने न केवल 5160 की लीड को कांग्रेस की खत्म किया, बल्कि 15 हजार की लोकसभा चुनावों मंे लीड लेकर करीब 20 हजार मतों का इजाफा किया है। 2019 के चुनावों में भाजपा प्रत्याशी सुरेश कश्यप ने रेणुकाजी हलके से 31,522 मतों को प्राप्त किया, जबकि इस विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी डा. कर्नल धनीराम शांडिल को 15690 मतों से ही संतोष करना पड़ा। लिहाजा रेणुकाजी से शिमला संसदीय सीट के प्रत्याशी को कांग्रेस की परंपरागत सीट से 15832 से लीड मिलने में कामयाबी मिली है। रेणुकाजी विधानसभा सीट के 123 बूथों में से लगभग 95 प्रतिशत बूथों पर भाजपा को बढ़त मिली है। उधर भाजपा ने रेणुकाजी में भी जीत का विजयी जुलूस निकाला तथा मिठाइयां वितरित की।

 

You might also like