रेहड़ी-फड़ी वालों के कब आएंगे अच्छे दिन

सुजानपुर —सुजानपुर बस स्टैंड पर पक्के खोखे कब बनेंगे? कौन सी ऐसी सरकार आएगी, जो पक्के खोखे बनाकर रेहड़ी-फड़ी धारकों के अच्छे दिन लाएगी, इस बात पर सवालिया निशान लगा हुआ है। चुनावी बेला पर एक बार फिर से सुजानपुर बस स्टैंड पर खोखे कब बनेंगे, मुद्दा निकलकर बाहर आया है। हर बार जब चुनाव होते हैं, तो रेहड़ी-फड़ी धारक अपने आपको असहाय और ठगा सा महसूस करने लग पड़ते हैं। इसका मुख्य कारण चुनावी बेला पर उनके साथ बोले जाने वाला झूठ है। प्रदेश में जब पूर्व में कांग्रेस सरकार थी उस समय बस स्टैंड पर बीते 25 से 40 वर्ष तक रेहड़ी-फड़ी लगाकर बैठे दुकानदारों को पक्के खोखे देने का वादा सुजानपुर विधायक राजेंद्र राणा ने किया था। उन्होंने विधिवत शिलान्यास प्रक्रिया पूरी करवाकर भूमि स्थानांतरण तक का कार्य करवा दिया गया था, लेकिन उसके बाद खोखाधारकों की आपसी सहमति से बनने वाले खोखे क्यों नहीं बने, खोखे बनाने का सपना, सपना बनकर ही क्यों रह गया, कोई पता नहीं है? वर्तमान में सत्तासीन भाजपा सरकार का कार्यकाल भी दो वर्ष का होने वाला है, लेकिन दो वर्ष बीत जाने के बावजूद पक्के खोखे कब बनेंगे इस बात का कोई अता-पता नहीं है। हैरानी देखने में तब आती है, जब रेहड़ी-फड़ी यूनियन एवं वेंडर कमेटी का प्रधान सत्तासीन भाजपा सरकार समर्थित नगर परिषद का प्रधान भी है। खुद अध्यक्ष होने के नाते वह भी आज तक पक्के खोखे नहीं बना पाया, न ही इन्हें बनाने संबंधी कोई प्रक्रिया पूरी कर पाया। रेहड़ी-फड़ी यूनियन के महासचिव दिनेश डोगरा ने बताया कि पक्के खोखे कब बनेंगे कौन सी सरकार इन्हें बनाएगी कोई अता-पता नहीं है। पूर्व में रही कांग्रेस सरकार ने शिलान्यास प्रक्रिया पूरी करवाई। भूमि स्थानांतरण का कार्य पूरा करवाया, लेकिन उसके बाद सत्ता परिवर्तन हो गया। सुजानपुर विधायक राजेंद्र राणा ने बताया कि पूर्व सरकार ने रेहड़ी-फड़ी धारकों को पक्के खोके बनाने का वादा किया था। विधिवत शिलान्यास प्रक्रिया एवं भूमि स्थानांतरण का कार्य करवाया गया था। खोखे खुद के पैसों से बनने थे। सरकार का कार्य केवल भूमि स्थानांतरण करवाने और शिलान्यास करवाने का था, जो उन्होंने पूरा करवाकर संबंधित विभाग के अधीन कर दिया था। खोखे क्यों नहीं बने इसका जवाब नगर परिषद को देना चाहिए। इस संबंध में नगर परिषद अध्यक्ष अशोक मेहरा ने बताया कि लोकसभा चुनाव समाप्ति के बाद नगर परिषद की प्रथम बैठक में खोखे बनाने को हरी झंडी दी जाएगी। सुजानपुर प्रशासन एवं नगर परिषद खोखे बनाने के लिए वचनबद्ध है।

You might also like