रोनित रॉय और सोमा घोष के हाथों परमेशपॉल की ‘द सेक्रेड नंदी’ प्रदर्शनी का अनावरण

प्रसिद्ध अभिनेता रोनित रॉय और प्रसिद्ध गायिका पद्मश्री डा. सोमा घोष ने कलाकार परमेश पॉल की नई कलाकृति ‘द सेक्रेड नंदी’ का अनावरण किया। परमेशपॉल की यह नई कलाकृति की प्रदर्शनी जहांगीर आर्टगैलरी में आयोजित की गई है। इस अवसर पर सामाजिक कार्यकर्ता डा. अनिल काशी मुरारका, कलाकार पृथ्वीसोनी, गौतम पाटोले, अनन्या बनर्जी, समीर मंडल, गौतममुखर्जी, विश्वा साहनी, अमीषा मेहता और संजुक्ता बरीक उपस्थित थे। कलाकार परमेश पॉल के आध्यात्मिकता का सफर उनके बचपन से ही शुरू हुआ। तब से आध्यात्मिकता का अभ्यास ही उनके लिए उनकी चित्रकारी रही हैं। परमेशपॉल की हर एक कलाकृति की गहराई में मग्न होकर आपको जीवन की मधुर लय का अनुभव होगा जिसके वजह से आप संपूर्ण सृष्टि से एक अलग ही भावना के साथ जुड़ जाएंगे। परमेश पॉल के कलात्मक जीवन का सफर पश्चिम बंगाल के छोटे से गांव नादियां से शुरू हुआ। शुरुआती स्कूली दिन कला से भरे थे। कुम्हार के घर जन्मे परमेश पॉल ने अपने इस कला को साथी बनाया। परमेश पॉल ने आगे कहा, मैं एक कलाकार हूं, जो अपने प्रयासों से आगे आया हूं। मैंने अपने परिवार के साथ इस यात्रा की शुरुआत की थी। हम देवी-देवताओं की सुंदर मूर्तियां बनाते थे, लेकिन इस्कॉन की वास्तविकता मुझे रंगकर्म मेले गई और इसलिए शायद मेरी चित्रकारी आध्यात्मिकता और प्रकृति का एहसास कराती है। इनमें से प्रत्येक चित्रकारी की प्रतिया भारत के विभिन्न हिस्सों की यात्रा से प्रेरित है, मेरी हर कलाकृति जो मैंने देखा और अनुभव किया उस पर आधारित है। परमेश पॉल कहते है, मैं अपनी कला के प्रति पहले से ही इमानदार रहा हूं, जो मुझे सही लगा मैंने उसे कैनवास पर उतारा। मंदिरों से आती समधुर भजन और संगीत की आवाजें सुनकर मेरा बचपन बीता। निसर्ग से जुड़ा आकर्षण और पवित्र नंदी, देवी-देवताओं के भव्य वाहन का चित्र कैनवास पर उतारना ही मेरे मायने में उनकी पूजा के बराबर है। परमेश पॉल कि चित्रकारी में महान हिंदू आध्यात्मिक कथाओं का स्पर्श होने की वजह से उनकी हर एक चित्रकारी में एक अस्थिर ऊर्जा हैं, इसकी वजह से नंदी की चमक और पवित्रता दोनों भौतिक और शारीरिक रूप से वैभवशाली दिखाई देती हैं। जब मेरी कला के प्रशंसक  प्रशंसा करते हैं और मेरे काम के बारे में मुझसे बात करने के लिए आगे आते हैं, तो मुझे लगता है कि मैं अपने जीवन की यात्रा को एक पूर्ण कलाकार के रूप में पूरा कर रहा हूं।

You might also like