वक्त आरोपों का नहीं, वर्कर्ज के मनोबल बढ़ाने का

शिमला – कांगे्रस के पूर्व अध्यक्ष सुखविंदर सुक्खू ने पार्टी के वरिष्ठ नेता वीरभद्र सिंह का नाम लिए बिना कहा है कि खुद शीशे के घरों में रहने वाले दूसरों पर पत्थर नहीं फेंका करते। उन्होंने कहा कि यह समय एक-दूसरे पर दोषारोपण करने का नहीं है, बल्कि कार्यकर्ताआें का मनोबल बढ़ाकर भविष्य के लिए काम करने का है। अपने बयान में सूक्खू ने कहा  कि लोकसभा चुनाव के नतीजे बेशक कांग्रेस के पक्ष में नहीं हैं, लेकिन इससे निराश होने की जरूरत नहीं है। नतीजों से सीख लेते हुए पार्टी कार्यकर्ता भविष्य के लिए फील्ड में डट जाएं। हमारा काम कांग्रेस की विचारधारा को आगे ले जाकर घर-घर पहुंचाना है। समय हमेशा एक जैसा नहीं रहता, हार के बाद जीत भी मिलती है। यह समय एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप के बजाय एकजुट होकर आगे बढ़ने का है। सुक्खू ने कहा कि उन्होंने दूसरों के सिर दोष मढ़कर राजनीतिक रोटियां सेंकने का काम कभी नहीं किया। चुनाव के दौरान कार्यकर्ताओं ने जीतोड़ मेहनत की, नतीजे अगर विपरीत आएं तो ठीकरा कार्यकर्ताओं पर नहीं फोड़ा जा सकता।

You might also like