वल्लभ कालेज मंडी में ऑनलाइन पढ़ाई

शिमला —हिमाचल में मंडी जिला एक बार फिर उच्च शिक्षा को ऑनलाइन करने वाला पहला जिला बन गया है। सरदार वल्लभ भाई पटेल डिग्री कालेज मंडी को वर्चुअल सेंटर बना दिया गया है। अब मंडी से आठ जिलों के कालेजों के छात्र ऑनलाइन स्टडी कर सकेंगे। जून की शुरूआत में वल्लभ कालेज में वर्चुअल क्लासेज का उद्घाटन कर यहां पर जिला के सभी कालेजों के छात्रों को एक ही धारा में पढ़ाया जाएंगा। एक साल से चली शिक्षा विभाग की इस योजना को पहली बार मंडी जिला से सफलता हासिल हुई है। हालांकि शिक्षा विभाग का कहना है कि पहले चरण में शिमला, चंबा व अन्य ऐसे आवश्यक जिलों में वर्चुअल क्लासेज शुरू होंगी, जहां प्रोफेसरों के सबसे ज्यादा पद खाली होंगे। वर्चुअल क्लासेज के माध्यम से प्रदेश के सरकारी कालेजों में डिजिटल रूप से छात्रों को पढ़ाने का टारगेट शिक्षा विभाग ने तय किया है। उच्च शिक्षा विभाग ने पहले चरण में प्रदेश के दस जिलों के कालेजों में ये क्लासेज शुरू  करने का दावा किया था। इंटरनेट क्नेक्टिविटी की वजह से बाकी जिलों में अभी इस कार्य को करने के लिए समय लगेगा। यही वजह है कि अभी शिक्षा विभाग ने मंडी जिला की उच्च शिक्षा को ही पूरी तरह से ऑनलाइन कर दिया है। खास बात यह है कि मंडी के सरदार वल्लभ भाई पटेल कालेज में सभी विषयों के संबधित प्रोफेसर होंगे। ये प्रोफेसर वर्चुअल क्लासेज के तहत वीडियो कान्फें्रसिंग से छात्रों को हर रोज पढ़ाएंगे। अगले सत्र से किन्नौर, लाहुल-स्पीति को छोड़ बाकी सभी जिलों के कालेजों में छात्र ऑनलाइन स्टडी का हिस्सा बनेंगे। प्रदेश में पहली बार ऐसी पहल की जा रही है। विभागीय जानकारी के अनुसार कालजों में वर्चुअल क्लासेज के सफल होने के बाद इन्हें स्कूलों में भी शुरू किया जाएगा।

 

You might also like