वशिष्ठ में खिसकी पहाड़ी, छह घरों को नुकसान

घरों पर चट्टान गिरने से ग्रामीण दहशत में, प्रशासन की टीम ने लिया घटना स्थल का जायजा

मनाली -वशिष्ठ में पहाड़ी खिसकने से छह घरों को आशिंक नुकसान पहुंचा है। बुधवार दोपहर वशिष्ठ गांव के साथ लगती पहाड़ी से अचानक एक बड़ी चट्टान गांव पर आ गिरी। चट्टान इतनी तेजी से पहाड़ी से गिरी कि जब तक गांव वाले कुछ समझ सकते तब तक चट्टान गांव के छह घरों को तोड़ते हुए निचे पहुंच चुकी थी। ग्रामीणों का कहना है कि पहाड़ी खिसकने से जहां चट्टान गावं के ऊपर गिरी है, वहीं इस घटना में किसी भी तरह का कोई जानी नुकसान नहीं हुआ है। ग्रामीणों का कहना है कि जिस समय यह घटना घटी उस  समय ग्रामीण घरों से बाहर थे। प्रशासन को जैसे ही घटना की सूचना मिली प्रशासन की एक टीम घटना स्थल पर पहुंची और नुकसान का जायजा लिया। पहाड़ी से गिरी चट्टान की चपेट में चुन्नी लाल, अमीत आचार्य, कला राम, देश राज, टेक राम व अन्य के मकान को आंशिक रूप से नुकसान पहुंचा है। प्रशासन का कहना है कि नुकसान का आंकलन किया जा रहा है। ग्रामीणों का कहना है कि अगर यह घटना रात के समय होती तो गांव में भारी संख्या में जानी नुकसान हो सकता था। उल्लेखनीय है कि मनाली का वशिष्ठ जहां गर्म पानी के कुंड के लिए प्रसिद्ध है, वहीं यहां पर भारी संख्या में सैलानी भी हर रोज पहुंचते हैं। लिहाजा जिस स्थल पर पहाड़ी खिसकने से चट्टान गिरी है वहां से गर्म पानी का कुंड व वशिष्ठ मंदिर कुछ ही दूरी पर है। ऐसे में अब जहां ग्रामीणों के दिल में भू-स्खलन का डल बैठ गया है, वहीं इस घटना ने वशिष्ठ वासियों को चौंका कर रख दिया है। उधर, एसडीएम मनाली अश्वनी कुमार का कहना है कि वशिष्ठ गांव में पहाड़ी से चट्टान गिरने से कुछ घरों को आशिंक रूप से नुकसान पहुंचा है। प्रशासन की टीम मौके पर भेजी गई है। नुकसान का आंकलन कर रिपोर्ट तैयार की जा रही है।

You might also like