विपक्ष को सत्ता चाहिए, मोदी को देश

बीबीएन—मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि पूरा देश मोदीमय हो चुका है, इस बार की मोदी लहर में भाजपा पिछले लोकसभा चुनावों से भी बड़ी जीत हासिल करेगी। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के पांच बर्ष के कार्यकाल के दौरान जनता ने मजबूत और मजबूर नेतृत्व कैसा होता है इसकी तुलना कर ली है। देश की जनता ने यूपीए शासनकाल का मजबूर नेतृत्व भी देख लिया है और अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मजबूत नेतृत्व वाली सरकार को भी भलीभांति परख लिया है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि विपक्ष के नेता प्रधानमंत्री बनने के सपने देख रहे हैं, जो पूरे नहीं होंगे। विडंबना है कि विपक्ष के नेता राष्ट्रहित नहीं बल्कि सत्ता हासिल करना चाहते हैं। यही नहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता से घबरा कर विपक्ष की पार्टियों को गठबंधन के लिए मजबूर होना पड़ा। उन्होंने कहा कि विपक्ष के नेता मोदी को रोकने का प्रयास कर रहे हैं। अब जनता ने मन बना लिया है कि नरेंद्र मोदी ने ही देश को मजबूत नेतृत्व दिया और उन्हें दोबारा प्रधानमंत्री बनाया जाएगा। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने यह शब्द नालागढ़ विधानसभा क्षेत्र के तहत पंजैहरा में आयोजित विजय संकल्प रैली के दौरान कहे। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार का पांच बर्ष का कार्यकाल उपलब्ध्यिों भरा रहा है, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने कल्याणकारी योजनाओं के जरिए समाज के हर वर्ग को लाभान्वित किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की मौजूदा भाजपा सरकार ने भी 15 माह के अल्प कार्यकाल में जन-जन तक विकास की लौ पहुंचाई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि चुनावों की घोषणा के बाद से वह अब तक 45 विधानसभा क्षेत्रों का दौरा कर चुके हैं, चुनाव प्रचार के दौरान जनता की आंखों में नरेंद्र मोदी को दोबारा प्रधानमंत्री बनाने का संकल्प दिखा है। ये शब्द मुख्यमंत्री ने नालागढ़ के पंजैहरा में आयोजित विजय संकल्प रैली के दौरान कहे। उन्होंने अपने संबोधन में, जहां कांग्रेस की जमकर घेराबंदी की वहीं केंद्र व प्रदेश सरकार की उपलब्धियों का भी जमकर बखान किया। मुख्यमंत्री ने प्रदेश की चारों लोकसभा सीटों पर कमल खिलने का दावा करते हुए कहा कि पिछले लोकसभा चुनावों में पार्टी प्रत्याशी को बढ़त दिलाने में नालागढ़ विधानसभा क्षेत्र प्रदेश भर में दूसरे नंबर पर था, लेकिन इस बार भाजपा जिला अध्यक्ष केएल ठाकुर ने हल्के से रिकार्ड बढ़त दिलाकर नंबर एक की पोजीशन हासिल करने की ठानी है। मुख्यमंत्री ने हल्के से भाजपा का विधायक न होने का जिक्र करते हुए कहा कि नालागढ़ की जनता ने विधानसभा चुनावों में जो वोटों की कमी रखी थी ,उसे इस बार लोकसभा चुनावों में रिकार्ड बढ़त दिलवाकर पूरी करें। इसके बाद नालागढ़ को समान और विकास के शिखर पर ले जाने का काम मैं करू़ंगा। मुख्यमंत्री के इस संबोधन के बाद पंड़ाल में खूब तालियां बजी। मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं चाहता हूं कि नालागढ़ बढ़त के मामले में सराज को भी पीछ़े छोड़ जाए। कांग्रेस नेताओं पर तंज कसते हुए जयराम ठाकुर ने कहा कि जब से राहुल गांधी के नाम के साथ पप्पु जुड़ा है तब से लोगों ने बच्चों का नाम पप्पू रखना ही छोड़ दिया है। लोग सोचते हैं कि कही नाम एक सा होने से गुण भी वही न आ जाएं। मुख्यमंत्री ने मजबूत लोकतंत्र के लिए मतदान को महत्त्वपूर्ण बताते हुए कहा कि इस बार जो भी युवा पहली बार मतदान करने जा रहे हैं, वो सशक्त और समर्थ राष्ट्र की परिकल्पना को ध्यान में रखंे। इसका सीधा मतलब होगा कि वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर वोट करेंगे। रैली को सबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पांच साल में दुनिया में देश की अलग पहचान बनाई है। आतंक के मुद्दे पर जयराम ठाकुर ने कहा कि देश में भाजपा की सरकार बनने के बाद अब आतंकी गतिविधियों का कड़ा जवाब दिया जा रहा है। सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक करके मोदी ने पाकिस्तान को जवाब दिया है। जयराम ठाकुर ने कहा कि भाजपा ने नारा दिया है अबकी बार चार सौ पार और हिमाचल में अब की बार चार की चार। प्रधानमंत्री मोदी हिमाचल को अपना घर मानते हैं। उन्होंने कहा कि लंबे अरसे के बाद देश को मजबूत नेतृत्व मिला है। इस दौरान दून विधायक परमजीत पम्मी, जल प्रबंधन बोर्ड के उपाध्यक्ष दर्शन सैणी ,खादी बोर्ड के उपाध्यक्ष पुरुषोतम गुलेरिया, गोसेवा आयोग के उपाध्यक्ष अशोक शर्मा, भाजपा उपाध्यक्ष गणेश दत्त,पूर्व विधायक विनोद चंदेल, भाजपा नेता प्रिंस अवस्थी, रूप नारायण भरतिया, योगेश भरतिया, रविंद्र सांख्यान, हंसराज चंदेल,वीर सिंह चंदेल,हरप्रीत सैणी,अवतार सैणी,संजीव टिंका , आशुतोष वैद्य सहित अन्य उपस्थित रहे।

कभी-कभी भावनाओं में बह कर टूट जाता है संयम

सीएम जनसभा के दौरान बीते दिनों रामशहर में भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सत्ती के बयान से उपजे विवाद का जिक्र करने से भी नहीं चूके। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को गाली देंगे तो हम भी कब तक संयम रखेंगे, भावनाएं व्यक्त करने का सबको अधिकार ओर कई बार भावनाएं व्यक्त करते संयम टूट जाता है। उन्होंने कहा कि  संयम रखना है तो सब रखें । विपक्ष का संयम उस वक्त कहां रहता है जब देश के पीएम को गलत् बोलते हैं।

You might also like