शराब माफिया पर रहेगी पैनी नजर

गगरेट—लोकसभा चुनावों के चलते पंजाब के साथ सटी जिला की सीमाओं पर सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद करने के लिए पुलिस ने कमर कस ली है। लोकसभा चुनावों तक ट्रबल मोंगर जिले की सीमाओं में प्रवेश कर यहां दहशतगर्दी न फैला पाएं इसके लिए मंगलवार को पुलिस थाना गगरेट के प्रभारी नंद लाल इंदौरिया ने जिले के साथ सटे पंजाब के होशियारपुर जिले के इस क्षेत्र के साथ लगते पुलिस थानों में जाकर थाना प्रभारियों के साथ बैठकें कर सूचनाएं साझा की और चुनावों के दौरान छोटी से छोटी सूचना एक-दूसरे के साथ साझा करने की रणनीति पर विचार किया। चुनाव के दौरान पंजाब से शराब व मादक द्रव्य पदार्थों की तस्करी पर लगाम कसने के लिए ऐसी सूचनाएं तत्काल व्हाट्स ऐप पर शेयर करने का आह्वान किया। पुलिस थाना गगरेट के प्रभारी नंद लाल इंदौरिया व सह थाना प्रभारी सुशील कुमार ने पुलिस थाना सदर होशियारपुर के एसएचओ सुरेश अरोड़ा, पुलिस थाना हरियाणा भुंगा के एसएचओ बलविंद्र सिंह बराड़ व पुलिस थाना तलवाड़ा के एसएचओ के साथ अलग-अलग बैठकें कीं। इन तीनों पुलिस थानों की सीमाएं पुलिस थाना गगरेट की सीमाओं को टच करती हैं। बैठक में तय किया गया कि चुनाव के समय तक आपसी सामंजस्य स्थापित कर हर गतिविधि पर बारीकी से नजर रखी जाएगी। एसएचओ नंद लाल इंदौरिया ने जानकारियां साझा करते हुए बताया कि गगरेट पुलिस ने होशियारपुर जिले की सीमा के साथ लगने वाली सीमाओं पर सात नाके लगाकर हर आने-जाने वाले पर नजर रखनी शुरू कर दी है और यहां तीसरी आंख का पहरा भी बिठा दिया गया है। जैसी तैयारी की गई है उसके चलते इन सीमाओं पर परिंदा भी पर नहीं मार सकता लेकिन इसके बावजूद अगर पंजाब पुलिस व हिमाचल पुलिस किसी भी मामले में सूचनाएं तत्काल सांझा करें तो ट्रबल मोंगर पर लगाम कसने में मदद मिल सकती है। उन्होंने कहा कि दस मई को होशियारपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रस्तावित रैली के चलते गगरेट पुलिस ने अपने नाकों पर चौकसी बढ़ा दी है। डीएसपी मनोज जम्वाल ने बताया कि लोकसभा चुनावों के चलते हिमाचल पुलिस पंजाब पुलिस के साथ तालमेल स्थापित करने के लिए ही इस प्रकार की इंटर स्टेट पुलिस मीटिंग कर रही है।

You might also like