शिक्षा उपनिदेशक संग स्कूल पहुंचे डीएसपी

जवाली, राजा का तालाब, ठाकुरद्वारा—राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला चरूड़ी के 11 वर्षीय छात्र की मौत का मामला मीडिया में आने के उपरांत मंगलवार को डीएसपी नूरपुर डा. साहिल अरोड़ा व उच्च शिक्षा विभाग के उपनिदेशक गुरदेव सिंह स्वयं जांच के लिए स्कूल में पहुंचे । डीएसपी ने घटनास्थल का जायजा कर साक्ष्य जुटाए। वहीं, स्कूल स्टाफ  व  बच्चों से पूछताछ की गई। इसके बाद डीएसपी पुलिस स्टाफ  सहित परिजनों के घर पर पहुंचे व उन्हें न्याय दिलाने की बात कही। घर पर पहुंचे डीएसपी को परिजनों, रिश्तेदारों व गांववासियों के गुस्से का भी सामना करना पड़ा। मृतक छात्र की माता इच्छया देवी सहित परिजनों ने गंगथ चौकी प्रभारी के विरूद्ध कार्रवाई करने की मांग उठाई। उन्होंने कहा कि इस मामले की जांच किसी और से करवाई जाए। परिजनों ने आरोप लगाया कि मामले को लेकर गंगथ चौकी इंचार्ज पवन गुप्ता के पास गए थे, लेकिन उन्होंने इस मामले को दबाने का प्रयास किया और समय पर जांच न करते हुए पुलिस प्रशासन को गुमराह किया है। मृतक छात्र की माता ने कहा कि उनके लाडले केतन की मौत के मामले में जांच की मांग को लेकर शिकायत पत्र मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर व डीजीपीए एसपी कांगड़ा को भी भेजा गया है। उन्होंने बताया कि मेरे बच्चे की मौत खेलते हुए गिरने से नहीं हुई है बल्कि दूसरे छात्र द्वारा उसके सिर पर डंडा मारा गया है। गंगथ पुलिस पर मामले में भेदभाव करके केस को दबाने का षड्यंत्र रचने का भी आरोप जड़ा है। साथ ही स्कूल प्रबंधन को भी कटघरे में खड़ा किया है।  डीएसपी डा. साहिल अरोड़ा ने आश्वासन दिया कि पुलिस इस मामले की जांच कर रही है तथा जांच में जो भी दोषी पाया जाएगा उसके विरुद्ध कारवाई की जाएगी। 

You might also like