शिमला गैंगरेप में बर्खास्त हो सरकार

मंडी कांग्रेस ने घटना को बताया शर्मनाक, प्रदर्शन कर जिलाधीश के जरिए राज्यपाल को भेजा ज्ञापन

मंडी –शिमला में छात्रा के साथ हुई बलात्कार की घटना के विरोध में मंडी में जिला कांग्रेस ने प्रदर्शन कर रोष प्रकट किया। कांग्रेस ने मंडी में प्रदेश सरकार के खिलाफ  धरना प्रदर्शन किया व जिलाधीश मंडी के माध्यम से राज्यपाल को ज्ञापन भी भेजा, जिसमें प्रदेश सरकार को बर्खास्त करने और घटना की निष्पक्ष जांच करवाने की मांग की गई। इस दौरान कांग्रेस द्वारा जिला अध्यक्ष दीपक शर्मा की अध्यक्षता में एक बैठक का आयोजन गांधी भवन में किया गया, जिसके बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उपायुक्त कार्यालय तक रोष रैली निकाली व धरना प्रदर्शन किया। इस अवसर पर जिला कांग्रेस अध्यक्ष दीपक शर्मा ने कहा कि जबसे भाजपा सरकार प्रदेश में सत्तासीन हुई है, तब से ही कानून व्यवस्था की स्थिति दयनीय बनी हुई है । प्रदेश सरकार ने आमजन को भगवान भरोसे छोड़ रखा है। प्रदेश की राजधानी में जो कुछ हुआ, वह बेहद निंदनीय है और देवभूमि पर दाग के समान है। इस घटना से हिमाचल वासियों का सिर शर्म से झुक गया है। उन्होंने कहा कि इस मामले में प्रदेश सरकार की पुलिस भी दोषी है और दोषी पुलिस कर्मियों को लेकर सरकार ने नरम रुख अपनाया हुआ है। इस मामले में दोषी खुलेआम घूम रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार इस मामले में अब जांच के आदेश देकर लीपापोती करने में लगी हुई है।  दीपक शर्मा ने कहा प्रदेश सरकार की लापरवाही कि वजह से यह शर्मनाक घटना हुई है। इसलिए मुख्यमंत्री को प्रदेश की जनता के समक्ष माफी मांगनी चाहिए और राज्यपाल घटना का संज्ञान लेते हुए प्रदेश सरकार को बर्खास्त करें। धरना प्रदर्शन में जोगिंदनगर ब्लॉक अध्यक्ष जीवन ठाकुर, सराज अध्यक्ष टेक सिंह,  द्रंग ब्लॉक अध्यक्ष केहर सिंह, सदर अध्यक्ष अमित गुलेरीया, शहरी कांग्रेस अध्यक्ष मंजूल राणा, अमित पाल सिंह,  चंपा ठाकुर, जोगिंद्र गुलेरिया, कृष्ण पाल, संजीव गुलेरिया, राकेश धरवाल, चमन राही, गिरधारी लाल, सुमन चौधरी, अंजना ठाकुर, दर्शन ठाकुर, जगदीश रेड्डी और अन्य लोग उपस्थित रहे।

You might also like