शिलाई में महिलाओं की मतदान प्रतिशतता जिला में सर्वाधिक

नाहन—जिला सिरमौर के गिरिपार क्षेत्र की महिलाएं व युवतियां किसी से पीछे नहीं हैं। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेलकूद गतिविधियों व अन्य क्षेत्र में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा चुकी जिला सिरमौर के शिलाई क्षेत्र की बेटियों के हौंसले भी शिलाई के पहाड़ों से ऊंचे हैं। अब सभी क्षेत्रों में अपनी अहम भागीदारी के बाद शिलाई की महिलाओं व बेटियों ने लोकतंत्र में भी अपनी भागीदारी पुरुषों की तुलना में अधिक दर्ज कर दी है। इस बात का सबूत 19 मई को संपन्न हुए 17वीं लोकसभा के चुनाव में स्पष्ट रूप से उस वक्त सामने आया जब जिला प्रशासन ने जिला के तमाम पोलिंग बूथ का पुरुष व महिलाओं का मतदान प्रतिशत निकाला। इसमें जिला सिरमौर के गिरिपार क्षेत्र के लिए सबसे बड़ी गौरव की बात यह रही कि लोकसभा चुनाव में जिला सिरमौर में सर्वाधिक महिला मतदान शिलाई विधानसभा क्षेत्र में दर्ज किया गया। शिलाई क्षेत्र की बेटियां व महिलाएं लोकसभा चुनाव में अपने मत का प्रयोग करने खुलकर सामने आई तथा नतीजा यह रहा कि शिलाई विधानसभा क्षेत्र में जिला सिरमौर में महिला मतदान की प्रतिशतता जिला में सर्वाधिक 70.88 प्रतिशत रहा। जो जिला सिरमौर के लिए गौरव का विषय है। जिला सिरमौर के शिलाई विधानसभा क्षेत्र में भले ही अन्य चार विधानसभा क्षेत्रों की तुलना में मतदान प्रतिशत ओवर ऑल कम रहा, परंतु महिलाओं की मतदान प्रतिशत में शिलाई क्षेत्र जिला मेंं सर्वश्रेष्ठ रहा। सिरमौर जिला के पांच विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में 278973 मतदाताओं द्वारा अपने मताधिकार का प्रयोग करके औसतन 74.64 प्रतिशत मतदान दर्ज हुआ है, जिनमें 75.66 प्रतिशत पुरुष और 73.54 प्रतिशत महिलाओं द्वारा मतदान किया गया। जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त सिरमौर ललित जैन ने बताया कि सिरमौर जिला में कुल पंजीकृत 373739 मतदाताओं में से केवल 278973 मतदाताओं जिनमें 147475 पुरुष और 131498 महिला मतदाताओं द्वारा अपने मताधिकार का प्रयोग किया गया। उन्होंने कहा कि जिला के नाहन निर्वाचन क्षेत्र में सर्वाधिक 79.17 प्रतिशत मतदान और शिलाई निर्वाचन क्षेत्र में सबसे कम 69.69 प्रतिशत मतदान दर्ज हुआ है, जबकि पच्छाद आरक्षित निर्वाचन क्षेत्र में 76.10 प्रतिशत, श्रीरेणुकाजी में 70.15 और पांवटा निर्वाचन क्षेत्र में 77.07 मतदान रिकार्ड हुआ है। उन्होंने कहा कि शिलाई निर्वाचन क्षेत्र में महिला मतदान प्रतिशतता जिला के पांच निर्वाचन क्षेत्र में औसतन सर्वाधिक 70.88 रही है। उपायुक्त ने बताया कि पच्छाद आरक्षित निर्वाचन क्षेत्र में कुल 73809 मतदाता है जिनमें से 56166 मतदाताओं द्वारा अपने मताधिकार का प्रयोग करके 76.10 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया, जिनमें 29758 पुरुष और 26408 महिला मतदाता शामिल है अर्थात पच्छाद में 78.95 प्रतिशत पुरुषों और 73.12 प्रतिशत महिला मतदाताओं द्वारा वोट डाले गए। इसी प्रकार नाहन निर्वाचन क्षेत्र में कुल 79606 मतदाता है, जिनमें से 63025 मतदाताओं द्वारा अपने मताधिकार का प्रयोग करके 79.17 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया जिनमें 32655 पुरुष और 30370 महिला मतदाता शामिल है अर्थात नाहन निर्वाचन क्षेत्र में 80.35 प्रतिशत पुरुषों और 77.94 प्रतिशत महिला मतदाताओं द्वारा मतदान किया गया। उपायुक्त ने बताया कि श्रीरेणुकाजी आरक्षित निर्वाचन क्षेत्र में कुल 70364 मतदाता हैं, जिनमें से 49357 मतदाताओं द्वारा अपने मताधिकार का प्रयोग करके 70.15 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया, जिनमें 26079 पुरुष और 23278 महिला मतदाता शामिल हैं अर्थात श्रीरेणुकाजी में 71.92 प्रतिशत पुरुषों और 68.26 महिला मतदाताओं द्वारा अपने मताधिकार का प्रयोग किया  गया। उन्होंने बताया कि पांवटा निर्वाचन क्षेत्र में कुल 80177 मतदाता है जिनमें से 61791 मतदाताओं द्वारा अपने मताधिकार का प्रयोग करके 77.07 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया, जिनमें 32647 पुरुष और 29144 महिला मतदाता शामिल हैं अर्थात पांवटा  निर्वाचन क्षेत्र में 77.73 प्रतिशत पुरुषों और 76.34 प्रतिशत महिला मतदाताओं द्वारा मतदान किया गया। इसी प्रकार शिलाई निर्वाचन क्षेत्र में कुल 69783 कुल मतदाता है, जिनमें से 48634 मतदाताओं द्वारा अपने मताधिकार का प्रयोग करके 69.69 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया है जिनमें 26336 पुरुष और 22298 महिला मतदाता शामिल हैं अर्थात शिलाई निर्वाचन क्षेत्र में 68.72 प्रतिशत पुरुषों और 70.88 प्रतिशत महिला मतदाताओं द्वारा मतदान किया गया अर्थात जिला के शिलाई निर्वाचन क्षेत्र में महिलाओं की मतदान प्रतिशतता सर्वाधिक रही जोकि गौरव का विषय है।

You might also like