सत्यनारायण मंदिर रामपुर में 700 की सेहत परखी

रामपुर बुशहर—रामपुर स्थित सत्यनारायण मंदिर परिसर में आयोजित हुआ नेत्र रोग शिविर सोमवार को समाप्त हो गया। शिविर के दौरान लगभग 100 बुर्जुगों के मोतियबिंद के सफल ऑपरेशन किए गए। शिविर के लिए रोटरी आई अस्पताल मरांडा पालमपुर से आए डा. रोहित शर्मा, डा. आशिष गुप्ता और डा. सिद्धार्थ समेत चौदह लोगों की टीम ने मरीजों की जांच कर रोगियों के आपरेशन किए। शिविर में करीब सात सौ से ज्यादा नेत्र रोगियों की जांच की गई। जिसमें पचास वर्ष की आयु से अधिक गरीब और असहाय लोगों के मोतिया बिंद के ऑपरेशनों को प्राथमिकता के तौर पर किया गया। न्यास के सदस्य विनय शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि बीते आठ वर्षों से रामपुर के सत्यनारायण मंदिर परिसर में न्यास की और से हर वर्ष शिविर का सफल आयोजन किया जा रहा है। यह शिविर नेत्र रोग के मरीजों के लिए न्यास की ओर से निःशुल्क लगाया जाता है। उन्होंने बताया िक न्यास की ओर से मरीजों के ऑपरेशन से लेकर ठहरने और खाने पीने के अलावा अन्य व्यवस्थाऐं की गई थी। शिविर के पहले दिन सुबह नौ बजे से मरीजों की जांच पड़ताल शुरू की गई है। इसके पश्चात विभिन्न नेत्र रोगों से ग्रस्त लोगों का चयन शनिवार को कर दिया गया और करीब 100 मरीजों के सफल आपरेशन किए गए। उन्होंने बताया क शिविर के अंतिम दिन मरीजों की पुनः जांच पड़ताल के बाद उन्हें दवाएं, चश्में और अन्य जरूरी परामर्श देकर मरीजों को घरों की ओर रवाना कर दिया गया। न्यास ने बताया कि शिविर में पहुंचे पचास वर्ष की आयु से अधिक आयु के गरीब और असहाय लोगों के मोतिया बिंद के ऑपरेशनों को प्राथमिकता के तौर पर किया गया। शिविर में मदन भारती, रोशन चौधरी, राजीव अग्रवाल, दिनेश, उमा दत्त, देव कुमार नेगी, मोहन श्याम, जीआर आजाद, सतीश कुमार के अलावा सेवा भारती, विश्व हिंदू परिषद एवं राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवक एवं सत्यनारायण मंदिर ट्रस्ट के कर्मचारी मौजूद रहे।

You might also like