सराज में बंपर वोटिंग नहीं, बूथ कैप्चरिंग हुई

मंडी—कांग्रेस पार्टी के मंडी संसदीय सीट से प्रत्याशी आश्रय शर्मा ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के गृहक्षेत्र सराज में हुई बंपर पोलिंग को बूथ कैप्चरिंग का नतीजा बताया है। उन्हांेने मंडी में एक पत्रकार वार्ता में आरोप लगाते हुए कहा कि सराज में प्रशासन के सहयोग से बूथ कैप्चरिंग की गई और इसी वजह से इतना अधिक मतदान वहां हुआ है। जानबूझ कर सरकार में मतदान केंद्रों पर केवल होमगार्ड और पुलिस के जवान लगाए गए। सराज में एक बूथ पर भी पैरा मिलिट्री के जवान नहीं लगाए गए। इसके साथ ही भाजपा कार्यकर्ताओं ने वाहनों में लोगों को मतदान केंद्रों तक पहुंचाया। उन्होंने कहा कि इसकी तथ्य सहित शिकायत चुनाव आयोग से की जा रही है। आश्रय शर्मा ने कहा कि उन्होंने ऐसा चुनाव नहीं देखा है, जिसमें पूरे प्रशासन ने निष्पक्ष होने की बजाय सरकार के दबाव में काम किया है। उन्होंने कहा कि सराज में कांग्रेस के जो हमारे पोलिंग एजेंट थे, उनके गलत हस्ताक्षरों वाली लिस्ट भेजी गई, जिस कारण पोलिंग एजेंट को पोलिंग बूथ में प्रवेश की अनुमति नहीं दी गई। जिला निर्वाचन अधिकारी को दूरभाष पर इसकी जानकारी देने के बाद त्वरित कार्रवाई नहीं हुई, जब कार्रवाई हुई तब तक अधिकतर मतदान हो चुका था। आश्रय शर्मा का यह भी आरोप है कि चुनावों में भाजपा ने धनबल का इस्तेमाल किया। भाजपा नेताओं ने जनता को तरह-तरह के प्रलोभन दिए। उन्हांेने रात नौ बजे तक पोलिंग हुई है, लेकिन छह बजे एग्जिट पोल टीवी चैनल पर दिखा दिए गए। पत्रकार वार्ता में आश्रय शर्मा के साथ ही पूर्व सीपीएस सोहन लाल और पूर्व मिल्कफैड चेयरमैन चेतराम ने संबोधित करते हुए कहा कि इन लोकसभा चुनावों में सरकार ने सत्ता का दुरुपयोग किया। प्रशासनिक अधिकारियों ने भी इसमें सरकार का साथ दिया। सोहन लाल ठाकुर ने कहा कि सुंदरनगर में प्रियंका गांधी की रैली को लेकर भी कांग्रेस पर दबाब बनाया गया और अनुमति तक देने से इंकार कर दिया गया।

You might also like