सिरमौर से सुरेश कश्यप को मिली अब तक की सबसे बढ़ी बढ़त

नाहन— देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुनावी आंधी में जिला सिरमौर की पांच विधानसभा सीटों ने इस बार के लोकसभा चुनाव में रिकार्ड मतों की लीड दिलाकर शिमला संसदीय क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी सुरेश कश्यप को लोकसभा में पहुंचाने में अपना योगदान साबित कर दिया है। मोदी की लहर में जिला सिरमौर के दशकों पुराने तमाम रिकार्ड टूट गए तथा भाजपा के प्रत्याशी सुरेश कश्यप ने जिला सिरमौर की पांचों विधानसभा सीटों से रिकार्ड 95,483 मतों की जीत दर्ज कर न केवल कांग्रेस की उम्मीदों पर पूर्ण रूप से पानी फेरा, बल्कि राजनीतिक विश्लेषकों के अनुमान को भी झूठा साबित कर दिया है। जिला सिरमौर की पांच विधानसभा सीटों में से कयास लगाए जा रहे थे कि तीन विधानसभा सीटों जिनसे भाजपा के विधायक नेतृत्व कर रहे हैं पर भाजपा को जीत निश्चित है, परंतु प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लहर व शिमला संसदीय क्षेत्र से लंबे समय बाद सिरमौर जिला के पच्छाद से प्रत्याशी दिए गए सुरेश कश्यप को सिरमौर जिला के लोगों ने अपने परिवार का सदस्य मानते हुए दिल खोलकर वोट डाले। नतीजा यह हुआ कि सुरेश कश्यप ने सिरमौर जिला की पांच विधानसभा सीटों में से सर्वाधिक पांवटा विधानसभा सीट से 27,517 मतों की बढ़त प्राप्त की। पांवटा विधानसभा क्षेत्र बढ़त के लिहाज से भाजपा के लिए गत विधानसभा चुनाव की तरह ही लोकसभा चुनाव में भी पहले स्थान पर रहा। दूसरे स्थान पर विधानसभा के अध्यक्ष व भाजपा के वरिष्ठ नेता डा. राजीव बिंदल पार्टी प्रत्याशी को जीत दिलाने में मददगार साबित हुए तथा नाहन विधानसभा क्षेत्र से सुरेश कश्यप को 24663 मतों की भारी बढ़त मिली। भाजपा प्रत्याशी व पच्छाद से विधायक सुरेश कश्यप के अपने विधानसभा क्षेत्र पच्छाद के लोगों ने भी उन्हें दिल खोलकर मतदान किया तथा डेढ़ वर्ष पूर्व पच्छाद से सुरेश कश्यप को जो 6427 मतों की बढ़त मिली थी पच्छाद के मतदाताओं ने उस बढ़त को 16021 मतों तक पहुंचा दिया। यही नहीं श्रीरेणुकाजी विधानसभा क्षेत्र में भी भाजपा के वरिष्ठ नेता व एससी/एसटी निगम के पूर्व उपाध्यक्ष बलबीर चौहान ने तमाम कयास को झूठा साबित करते हुए रेणुका विधानसभा क्षेत्र से सुरेश कश्यप को 15832 मतों की बढ़त दिलाने में सफलता प्राप्त की।

You might also like