सीमा से स्पेशल फोर्स हटाएगा पाक

चौतरफा दबाव; भारत को भेजा तनाव खत्म करने का प्रस्ताव

नई दिल्ली – पुलवामा हमले के बाद भारत की एयर स्ट्राइक, कूटनीतिक दबाव और एलओसी पर सेना की जवाबी कार्रवाई के बीच खबर आ रही है कि पाकिस्तान अब सीमा पर शांति चाहता है। एक रिपोर्ट के मुताबिक दोनों मुल्कों के बीच वार्ता के लिए बनाए गए संस्थागत सैन्य माध्यम के जरिए पाकिस्तान की सेना की ओर से भारत को इस बात के लिए प्रस्ताव भेजा गया है कि वह सीमा पर तनाव को कम करने के लिए तैयार है। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि पाकिस्तानी सेना एलओसी से अपने स्पेशल सर्विस ग्रुप को हटाने के लिए भी तैयार है। पाक सेना ने एलओसी के करीब स्थित आतंकियों के लांच पैड्स अस्थायी तौर पर बंद कर दिए। हालांकि, भारत ने साफ कर दिया है कि आतंकवाद और घुसपैठ पर रोक ही शांति का एकमात्र रास्ता है। ऐसा समझा जा रहा है कि भारत की तरफ से बढ़ते दबाव की वजह से पाकिस्तान को यह फैसला लेने पर मजबूर होना पड़ा है। भारतीय सुरक्षा से जुड़े एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस बात की जानकारी दी। दोनों देशों के सैन्य अभियानों के महानिदेशक नियमित तौर पर एक-दूसरे से संपर्क में हैं और माना जा रहा है कि इसी बातचीत के दरम्यान ही सीमा पर तनाव को नियंत्रित करने का प्रस्ताव रखा गया। उन्होंने बताया कि पाकिस्तान ने प्रस्ताव दिया है कि वह अपने स्पेशल सर्विस ग्रुप (एसएसजी) जो कि पाकिस्तान की स्पेशल फोर्सेस है, को नियंत्रण रेखा से हटाएगी। इसके साथ ही दोनों तरफ से आए दिन होने वाली गोलीबारी को बंद करने का सुझाव भी दिया गया। यह बात प्रधानमंत्री कार्यालय को भेजी गई रिपोर्ट में कही गई है। इस बार बंकरों की मुरम्मत में नहीं डाला अड़ंगा ः रिपोर्ट्स के मुताबिक मानसून से पहले भारतीय सेना अपने बंकरों का मेंटेनेंस करती है। हर बार पाकिस्तान इसमें खलल डालता था, लेकिन इस बार वो बिलकुल चुपचाप रहा। इतना ही नहीं, भारतीय सेना ने पाकिस्तान की जो चौकियां तबाह की थीं, उन्हें फिर से तैयार करने का मौका भी दुश्मन को नहीं दिया गया।

You might also like