सेंसेक्स 204 अंक और निफ्टी 65 अंक फिसला

 

सेंसेक्स 204 अंक और निफ्टी 65 अंक फिसला

विदेशी बाजारों से मिले मिश्रित संकेतों के बीच धातु, दूरसंचार और यूटिलिटीज क्षेत्र की कंपनियों में हुई बिकवाली से बुधवार को बीसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 203.65 अंक की गिरावट के साथ 37,114.88 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 65.05 अंक फिसलकर 11,157 अंक पर बंद हुआ।सेंसेक्स की शुरुआत आज तेजी के साथ 37,539.05 अंक पर हुई। बाजार में दिन भर उठापटक जारी रही। एक तरफ अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में आयी गिरावट और अमेरिका तथा चीन द्वारा आपसी विवाद का बातचीत के जरिये हल ढूँढ़ने की संभावना जताने से निवेश धारणा में सुधार हुआ तो दूसरी तरफ यस बैंक, टाटा मोटर्स और इंडसइंड बैंक के शेयरों में हुई भारी बिकवाली का दबाव अधिक रहा। कारोबार के दौरान सेंसेक्स 37,559.67 अंक के दिवस के उच्चतम पर पहुँचा, लेकिन अंतिम पहर में हुई चौतरफा बिकवाली के दबाव में यह 37,047.87 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ अंतत: गत दिवस की तुलना में 0.55 फीसदी लुढ़ककर 37,114.88 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स की 30 में से मात्र पाँच कंपनियाँ हरे निशान में रहीं जबकि शेष 25 लाल निशान में रहीं।निफ्टी की शुरुआत तेजी में 11,271.70 अंक पर हुई। कारोबार के दौरान 11,286.80 अंक के दिवस के उच्चतम और 11,136.95 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ गत दिवस की तुलना में 0.58 प्रतिशत की गिरावट में 11,157 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 50 में से 39 कंपनियाँ गिरावट में और 11 तेजी में रहीं।दिग्गज कंपनियों की तरह छोटी और मंझाेली कंपनियाें में भी बिकवाली हावी रही। बीएसई का मिडकैप 0.67 प्रतिशत यानी 95.15 अंक की गिरावट में 14,117.42 अंक पर और स्मॉलकैप 0.45 प्रतिशत यानी 61.86 अंक की गिरावट में 13,781.73 अंक पर बंद हुआ।बीएसई में कुल 2,743 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें 1,556 में गिरावट और 1,000 में तेजी रही जबकि 187 कंपनियों के शेयरों के दाम में कोई बदलाव नहीं हुआ।

 

You might also like