सेंसेक्स 230 अंक टूटा, निफ्टी 57 अंक फिसला

मुम्बई – अमेरिका और चीन के बीच बढ़ी तनातनी से दुनिया भर के शेयर बाजारों में हो रही गिरावट के साथ ही देश के प्रमुख सूचकांकों में शामिल ऊर्जा और बिजली क्षेत्रों में हुई भारी बिकवाली के दबाव में घरेलू शेयर बाजार लगातार गुरूवार को सातवें दिन लाल निशान में बंद हुए।रिलायंस , कोल इंडिया और एनटीपीसी जैसी दिग्गज कंपनियों में हुई बिकवाली के दबाव में बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 230.22 अंक टूटकर 37,558.91 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 57.65 अंक उतरकर 11,301.80 अंक पर बंद हुआ।चीन और अमेरिका के बीच एक बार फिर तलवारें खींच गयी है, जिससे वैश्विक व्यापार युद्ध की आशंका दोबारा सिर उठाने लगी हैं। व्यापार समझौते को लेकर अमेरिका के साथ बढी तनातनी के बीच चीन ने आज कहा कि वह वैश्विक व्यापार युद्ध में अपने हितों की रक्षा के लिए पूरी तरह तैयार है। चीन ने साथ ही कहा है कि वह एकतरफा कदम उठाने के बजाय इस मसले को बातचीत के जरिये हल करना चाहता है। विवादास्पद दक्षिण चीन सागर में अमेरिका, भारत, जापान और फिलीपींस के नौसेना अभ्यास की खबरें चीन के साथ बढ़ते विवाद का संकेत देने वाली रहीं , जो निवेश धारणा के खिलाफ साबित हुईं। चीन पूरे दक्षिण चीन सागर पर अपना हक जताता है। इसे लेकर उसका इंडोनेशिया, मलेशिया, ताइवान, फिलीपींस, वियतनाम और ब्रुनेई से विवाद है। इन कारणों से दुनिया भर के शेयर बाजार में हडकंप मचा हुआ है। 

 

You might also like