सेंसेक्स 487 अंक और निफ्टी 138 अंक लुढ़का

 

सेंसेक्स 487 अंक और निफ्टी 138 अंक लुढ़का

विदेशी बाजारों से मिले कमजोर संकेतों के बीच रिलायंस,बजाज फाइनेंस और टाटा मोटर्स जैसी दिग्गज कंपनियों में हुई भारी बिकवाली के दबाव में बुधवार को बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स लगातार छठे दिन लाल निशान में रहता हुआ 487.50 अंक टूटकर 38,000 अंक क मनोवैानिक स्तर के नीचे लुढ़ककर 37,789.13 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 138.45 अंक उतरकर 11,400 अंक के मनोवैज्ञानिक स्तर से नीचे 11,359.45 अंक पर बंद हुआ।चीन के अप्रैल में निराशाजनक रहे निर्यात के आंकड़े और अमेरिका-चीन के बीच बढ़ी तनातनी का असर दुनिया भर के शेयर बाजारों पर रहा। इसके अलावा वेदांता के कमजोर तिमाही प्रदर्शन से भी निवेश धारणा कमजोर रही। इन सब वजहों के बीच सेंसेक्स गिरावट के साथ 38,244.18 अंक पर खुला। कारोबार के शुरुआती पहर में यह 38,248.57 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर तक पहुंचा। इसके बाद पूरे दिन बाजार में बिकवाली हावी रही। यह 37,743.07 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ गत दिवस की तुलना में 1.27 फीसदी की गिरावट में 37,789.13 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स की 30 में से मात्र दो कंपनियां हरे निशान में जगह बना पायीं। शेष 27 लाल निशान में रहीं जबकि एशियन पेंट्स के शेयरों के भाव अपरिवर्तित बंद हुए।निफ्टी की शुरुआत भी गिरावट में 11,478.70 अंक से हुई। कारोबार के दौरान 11,479.10 अंक के दिवस के उच्चतम और 11,346.95 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ गत दिवस की तुलना में 1.20 प्रतिशत की गिरावट में 11,359.45 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 50 में से 40 कंपनियां गिरावट में और 10 तेजी में रहीं।दिग्गज कंपनियों की तरह छोटी और मंझाेली कंपनियाें में भी बिकवाली जारी रही। बीएसई का मिडकैप 0.96 प्रतिशत यानी 139.50 अंक की गिरावट में 14,383.19 अंक पर और स्मॉलकैप 1.21 प्रतिशत यानी 172.47 अंक की गिरावट में 14,129.34 अंक पर बंद हुआ। बीएसई में कुल 2,636 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ, जिनमें 1,816 में गिरावट और 671 में तेजी रही जबकि 149 कंपनियों के शेयरों के दाम में कोई बदलाव नहीं हुआ।

 

You might also like