स्कूलों में मेंटर की भूमिका निभाएंगे प्रशासनिक अधिकारी

बिलासपुर —शिक्षा में सुधार लाने और विद्यार्थियों में प्रतिस्पर्धा की भावना पैदा करने के लिए प्रेरित करने के लिए जिला प्रशासन ने एक अहम कदम उठाया। इसके तहत जिला के विभिन्न अधिकारियों को जिला के विभिन्न स्कूलों में मेंटर की भूमिका निभाने के लिए भेजा गया। अधिकारियों द्वारा सर्वप्रथम विद्यार्थियों को उनके द्वारा पढ़े जा रहे विषय में रुचि पैदा करने के लिए प्रेरित किया। मेंटर्ज द्वारा विद्यार्थियों को बताया गया कि बिना पढ़ाई व मेहनत तथा लक्ष्य निर्धारण के बिना सफलता हासिल नहीं की जा सकती। जिला में जमा दो की कक्षाओं में बोर्ड की परीक्षाओं में बेहतर प्रदर्शन करने वाले स्कूलों में उपायुक्त विवेक भाटिया द्वारा लिए गए राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला कन्या बिलासपुर का परीक्षा परिणाम गत वर्ष 54.69 प्रतिशत था, जो कि इस वर्ष 85.06 प्रतिशत तक पहंुचा, जिसमें 30.37 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई। प्रधानाचार्य आईटीआई बरठीं द्वारा लिए गए राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला घंडीर का परीक्षा परिणाम गत वर्ष 23.61 प्रतिशत था, जो कि इस वर्ष 70.69 प्रतिशत तक पहंुचा, जिसमें 47.08 प्रतिशत की बढ़ेतरी दर्ज की गई। इसी प्रकार वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार द्वारा लिए गए राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला छात्र बिलासपुर का परीक्षा परिणाम गत वर्ष 31.36 प्रतिशत था, जो कि इस वर्ष 77 प्रतिशत तक पहंुचा, जिसमें 45.64 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई। बीडीओ घुमारवीं द्वारा लिए गए राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला हटवाड़ का परीक्षा परिणाम गत वर्ष 42.31 प्रतिशत था। जो कि इस वर्ष 84.38 प्रतिशत तक पहुंचा। इसमें 42.07 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई। जबकि बीडीओ झंडूता वर्तमान में एसडीएम झंडूता विकास शर्मा द्वारा लिए गए राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला तलाई का परीक्षा परिणाम गत वर्ष 50.39 प्रतिशत था, जो कि इस वर्ष 78.13 प्रतिशत तक पहंुचा, जिसमें 27.74 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई। उपनिदेशक बागवानी द्वारा लिए गए राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला झंडूता का परीक्षा परिणाम गत वर्ष 47.26 प्रतिशत था, जो कि इस वर्ष 73.11 प्रतिशत तक पहंुचा, जिसमें 25.85 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई। जिला भाषा अधिकारी द्वारा लिए गए राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला कंदरौर का परीक्षा परिणाम गत वर्ष 52.63 प्रतिशत था, जो कि इस वर्ष 74.26 प्रतिशत तक पहंुचा, जिसमें 21.63 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई। एसडीएम घुमारवीं द्वारा लिए गए राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला कुठेड़ा का परीक्षा परिणाम गत वर्ष 54.95 प्रतिशत था, जो कि इस वर्ष 70.59 प्रतिशत तक पहंुचा, जिसमें 25.64 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई। उपनिदेशक सैनिक कल्याण द्वारा लिए गए राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला भराड़ी का परीक्षा परिणाम गत वर्ष 70.59 प्रतिशत था, जो कि इस वर्ष 84.62 प्रतिशत तक पहंुचा, जिसमें 14.03 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई। एसडीएम सदर बिलासपुर द्वारा लिए गए राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला कोठीपुरा का परीक्षा परिणाम गत वर्ष 50 प्रतिशत था, जो कि इस वर्ष 58.06 प्रतिशत तक पहंुचा, जिसमें 8.06 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई। महाप्रबंधक जिला उद्योग केंद्र द्वारा लिए गए राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला बरठीं का परीक्षा परिणाम गत वर्ष 61.94 प्रतिशत था, जो कि इस वर्ष 68.59 प्रतिशत तक पहंुचा, जिसमें 6.65 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई।

You might also like