स्थिति पर मंथन करे कांग्रेस

– मोहिंद्र सिंह, ऊना

कांग्रेस पार्टी की हार के बाद राहुल गांधी ने अपने पद से त्याग पत्र देकर अच्छा कदम उठाया है। कांग्रेस की हार के अनेक कारण हैं। उनमें प्रमुखता से अगर देखा जाए, तो जो नेता कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व के लायक थे, उनको नजरअंदाज करके दूसरे स्थानों पर समायोजित कर दिया गया। अब कांग्रेस के नेतृत्व के लिए जनता द्वारा स्वतंत्र रूप से चुनाव करके नियुक्तियां की जाएं, तो पार्टी फिर से सत्ता में आ सकती है। अतः ऐसी स्थिति कांग्रेस में क्यों आई कि राहुल गांधी के अलावा कांग्रेस अध्यक्ष के पद को संभालने के लिए पार्टी के पास कोई नेता ही नहीं है। इससे भी पार्टी का आम कार्यकर्ता आहत है।

You might also like