हफ्ते का खास दिन :माधुरी दीक्षित जन्म दिवस 15 मई

माधुरी दीक्षित ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत साल 1984 में राजश्री प्रोडक्शन की फिल्म ‘अबोध’ से की थी, लेकिन यह फिल्म कुछ खास नहीं चली।  माधुरी को अपने शुरुआती करियर में कई असफलताओं का मुंह देखना पड़ा, लेकिन उन्हें हिंदी सिनेमा में पहचान मिली फिल्म ‘तेजाब’ से।  इस फिल्म में उन्हें उनकी बेहतरीन अदाकारी के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार का पहला नामांकन भी मिला था…

माधुरी दीक्षित का जन्म 15 मई, 1965 को मुंबई में हुआ।  पिता शंकर दीक्षित और माता स्नेह लता दीक्षित की लाड़ली माधुरी को बचपन से डाक्टर बनने की चाह थी, लेकिन वह अभिनेत्री बन गईं। माधुरी दीक्षित ने भारतीय हिंदी फिल्मों में एक ऐसा मुकाम तय किया है जिसे आज की अभिनेत्रियां अपने लिए आदर्श मानती हैं। 80 और 90 के दशक में इन्होंने स्वयं को हिंदी सिनेमा में एक प्रमुख अभिनेत्री तथा सुप्रसिद्ध नृत्यांगना के रूप मे स्थापित किया। उनके लाजवाब नृत्य और स्वाभाविक अभिनय का ऐसा जादू था कि माधुरी पूरे देश की धड़कन बन गईं।

माधुरी ने अपनी शुरुआती पढ़ाई डिवाइन चाइल्ड हाई स्कूल से संपूर्ण की है। उसके बाद माधुरी दीक्षित ने मुंबई यूनिवर्सिटी से स्नातक की शिक्षा पूरी की। माधुरी दीक्षित की शादी डा. श्रीराम नेने के साथ हुई है।  उनके दो बच्चे भी हैं। रियान और एरिन नेने। माधुरी दीक्षित ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत साल 1984 में राजश्री प्रोडक्शन की फिल्म ‘अबोध’ से की थी, लेकिन यह फिल्म कुछ खास नहीं चली।  माधुरी को अपने शुरुआती करियर में कई असफलताओं का मुंह देखना पड़ा, लेकिन उन्हें हिंदी सिनेमा में पहचान मिली फिल्म ‘तेजाब’ से। इस फिल्म में उन्हें उनकी बेहतरीन अदाकारी के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार का पहला नामांकन भी मिला था।  इस फिल्म का गाना ‘एक दो तीन’ आज भी माधुरी दीक्षित का आइकॉनिक सांग माना जाता है।  इस सफल फिल्म के बाद फिर उन्होंने कभी पीछे मुड़ कर नहीं देखा और हिंदी सिनेमा में बैक-टू बैक हिट फिल्में दीं।  फिल्म अभिनेता अनिल कपूर के साथ उन्होंने तकरीबन बीस फिल्मों में काम किया, जिनमें से अधिकतर उनकी फिल्में सुपरहिट साबित हुईं। साल 1990 में उन्होंने आमिर खान स्टार फिल्म ‘दिल’ की।  हर फिल्म की तरह उनकी यह फिल्म भी सुपर हिट साबित हुई।  इस फिल्म में उन्होंने एक अमीर लड़की की भूमिका निभाई थी, जिसे एक गरीब लड़के से प्यार हो जाता है। उनके करियर को सबसे बड़ी सफलता तब मिली जब उन्होंने राजश्री प्रोदुसतिओन की फिल्म ‘हम आपके हैं कौन’ की।  इस फिल्म में उन्होंने निशा की भूमिका अदा की थी।  यह हिंदी सिनेमा की पहली फिल्म थी, जिसने वर्ल्डवाइड सबसे जयादा कमाई की थी।  इस फिल्म का यह रिकार्ड गिनीज बुक में भी दर्ज है।  इस फिल्म में उनके किरदार के लिए आलोचकों से बहुत अच्छी और सकारात्मक प्रतिक्रिया मिली।  इस फिल्म में माधुरी के अलावा सलमान खान, मोहनी बहल, रेणुका शाहने,अनुपम खेर, आलोक नाथ भी नजर आए थे। इस फिल्म की कमाई का रिकार्ड सात सालों तक कोई भी फिल्म नहीं तोड़ पाई। बाद में साल 2002 में सनी देओल स्टार फिल्म ‘गदर-एक प्रेमकथा’ ने इस फिल्म के रिकार्ड को पीछे छोड़ दिया।

इस फिल्म के बाद तो माधुरी दीक्षित हिंदी सिनेमा की सबसे सफल अभिनेत्रीयों में शुमार हो चुकी थीं। उसके बाद उन्होंने कई और फिल्मों में अपने बेहतरीन प्रदर्शन से दर्शकों का मनोरंजन करती रहीं।  इसके बाद तो उन्होंने बॉक्स आफिस पर कई सफलताओं के पैमाने बनाए। शादी के बाद माधुरी ने फिल्मों से लंबी दूरी बनाकर विदेश में जाकर बस गई। साल 2006 में वापस आकर उन्होंने फिल्म ‘आजा नचले’ से हिंदी सिनेमा में अपनी वापसी की।

You might also like