हमीरपुर के चार स्कूलों में कोई एडमिशन नहीं

हमीरपुर—हमीरपुर के चार स्कूलों में जीरो इनरोलमेंट दर्ज की गई है। ऐसे में स्कूल स्टाफ को दूसरे स्कूलों में शिफ्ट किया गया है। बिझड़ी में दो और हमीरपुर व भोरंज में एक-एक स्कूल अस्थायी तौर पर बंद किए गए हैं। हालांकि स्कूलों को बंद करने की अभी तक अधिसूचना जारी नहीं हो पाई है। बता दें कि जिला के तीन प्राइमरी व एक मिडल स्कूल में इस वर्ष कोई भी छात्र दाखिल नहीं हुआ है। हमीरपुर के राजकीय माध्यमिक पाठशाला वोडू को जीरो इनरोलमेंट के चलते बंद कर दिया है। हाल ही में बिझड़ी के अंबोटा सहित गलोड़ शिक्षा ब्लॉक के अपर बेहा प्राइमरी स्कूल और बिझड़ी के ही प्राइमरी स्कूल डोडरू और भोरंज के प्राइमरी स्कूल समलोग को बंद करके स्टाफ को दूसरे स्कूल में शिफ्ट करने के निर्देश शिक्षा विभाग ने जारी किए हैं। हालांकि विभाग ने स्कूल स्टाफ को निर्देश दिए हैं कि आचार संहिता खत्म होने के बाद ही नए स्टेशनों में ज्वाइन करें। शिक्षा विभाग की मानें तो वर्ष 2016-17 में दो स्कूल जीरो इनरोलमेंट के चलते बंद किए गए थे। प्रदेश सरकार व शिक्षा विभाग की लाख कोशिशों के बावजूद जीरो इनरोलमेंट स्कूलों की संख्या रुकने का नाम नहीं ले रही है। छात्रों के अभिभावक भी अपने लाड़लों को सरकारी स्कूलों की बजाए प्राइवेट स्कूलों में ही भेजना ही बेहतर समझ रहे हैं। गौर रहे कि हमीरपुर जिला में 480 प्राइमरी और 116 मिडल स्कूल हैं। इनमें दस से कम संख्या वाले स्कूलों की सूची बीते वर्ष तैयार की गई थी। इनमें 17 प्राइमरी और चार मिडल स्कूलों में छात्रों की संख्या पांच से कम थी, जबकि 45 प्राइमरी और आठ मिडल स्कूल की संख्या दस से कम थी। संबंधित स्कूलों पर भी खतरा मंडरा रहा है। हालांकि जीरो इनरोलमेंट वाले स्कूलों पर ही इसकी गाज गिरी थी।

You might also like