हरियाणा में मुद्दे हारे, मोदी जीते

सिरसा -हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष एवं सिरसा से पार्टी प्रत्याशी डा.अशोक तंवर ने लोकसभा चुनाव में मिली हार पर प्रतिक्रिया देते हुए आज कहा कि देश व प्रदेश में मुद्दे हारे हैं जबकि मोदी जीते हैं। यहां मतगणना स्थल पर मीडिया से बातचीत में हार को स्वीकार करते हुए उन्होंने कहा कि उन्हें जनादेश मंजूर है। प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) शासन के कारण कर्मचारी, व्यापारी, किसान, मजदूर हर वर्ग परेशान रहा बावजूद इसके नरेंद्र मोदी सरकार ने गरीबों व महिलाओं को प्रलोभन देकर वोट हथियाने का काम किया। उन्होंने कहा कि हरियाणा में कांग्रेस व भाजपा प्रत्याशियों के बीच रही सीधी टक्कर ने साबित कर दिया है कि क्षेत्रीय दलों का प्रदेश में कोई महत्व नहीं रह गया है। उन्होंने प्रदेश में इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो)  व जननायक जनता पार्टी (जजपा) प्रत्याशियों को मिले मतों पर चुटकी लेते हुए कहा कि क्षेत्रीय दलों को जितने वोट उन्होंने अकेले अर्जित किए हैं। डा.  तंवर ने कहा कि केंद्र सरकार ने फसल बीमा योजना के नाम पर चार वर्ष तक किसानों से पैसा एकत्रित किया और आखिरी बरस में किसानों में बेतरतीब वितरण कर किसानों को लुभाने का काम किया। उन्हेंने कहा कि भाजपा ने एक तरीके से अप्रत्यक्ष तौर पर गांव के भोले भाले किसानों को वोट के लिए रिश्वत देने का काम किया है। डा. तंवर कहा कि मोदी सरकार ने लोकसभा चुनाव में छद्म राष्ट्रवाद की राजनीति की है। प्रधानमंत्री मोदी ने विकास योजनाओं की बजाय देश की सेना व श्श्हीद सैनिकों के नाम पर वोट लिया है। उन्होंने कहा कि देश में भाजपा का दूसरी बार सत्तारूढ़ होना गांव व गरीब के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है। प्रदेश में कांग्रेस प्रत्याशियों की हार के सवाल पर उन्होंने कहा कि हार के अन्य कारणों की समीक्षा की जाएगी। इसके लिए बूथ स्तर तक  के कार्यकर्ताओं से रिपोर्ट तलब की जाएगी व पार्टी प्रत्याशियों के पीठ में छुरा घोंपने वाले नेताओं के

You might also like