हर राजस्व गांव में तैनात होंगे 2-2 स्वयंसेवी

बिलासपुर —इस फायर सीजन में हरे भरे वनों को आग से बचाने के लिए बिलासपुर जिला प्रशासन ने नई योजना पर काम शुरू कर दिया है। इसके तहत जिला के प्रत्येक राजस्व गांव में दो-दो स्वयंसेवी नियुक्त किए जाएंगे। इन स्वयंसेवियों के कंधों पर उनके अधीनस्थ क्षेत्रों में होने वाली आगजनी की घटनाओं पर पैनीनजर रखने का जिम्मा होगा। इसके अलावा जिला प्रशासन ने शिक्षा विभाग से आग्रह किया है कि स्कूली बच्चों को जंगलों में आग लगने से होने वाले नुकसान के बारे में जागरूक किया जाए, ताकि वे इस संदेश कोे घर-घर तक पहुंचाकर परिवार तथा समाज को जागरूक कर जंगलों को आग से बचाने में अहम भूमिका निभाएंगे। शनिवार को बिलासपुर के उपायुक्त विवेक भाटिया ने जंगलों में आगजनी की घटनाओं को रोकने के संदर्भ में आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए बताया कि समाज के प्रत्येक वर्ग का दायित्व है कि जंगलों में आग लगाने वाले असमाजिक तत्त्वों पर कड़ी नजर रखें और उनकी सूचना तुरंत प्रशासन को देना सुनिश्चित करें, ताकि आग लगाने वालों के विरुद्ध कड़ी कारवाई अमल में लाई जा सके और उन्हें प्रावधानों के अनुसार दंडित किया जा सके। उन्होंने बताया कि आग की सूचना देने के लिए टोल-फ्री 1077 पर सूचित किया जा सकता है, जो कि 24 घंटे तक कार्यरत है। उन्होंने एसडीएम और बीडीओ को निर्देश दिए कि आगामी एक सप्ताह के भीतर बैठक करके लोगों को जागरूक करें। उन्होंने बताया कि आगजनी की घटनाओं पर नियत्रंण रखने के लिए संबंधित विभागों के अतिरिक्त पंचायत प्रतिनिधियों, महिला व युवक मंडलों स्वयं सेवियों के अलावा स्थानीय लोगों की भी सहभागिता सुनिश्चित बनाएं, ताकि आगजनी के दौरान आपसी सहयोग से प्रारम्भिक स्तर पर ही काबू पाया जा सके। उन्होंने विद्युत विभाग को भी निर्देश दिए कि वह अपने बिजली के ट्रांसफार्मरों के आसपास की झाडि़यों की कटाई व पेड़ पौधों की छंटाई करके रिपोर्ट भेजना सुनिश्चित करें। इस अवसर पर डीएफओ सरोज भाई पटेल ने जिला में आगजनी की घटनाओं को लेकर किए जा रहे विशेष प्रबंधों की विस्तृत जानकारी दी, जबकि कमाडेंट अजय बौध, डीआरओ देवी राम, अधिशाषी अभियंता विद्युत एमएस गुलेरिया, एसडीएम प्रियंका वर्मा, विकास शर्मा, एसीएफ सुकल्प शर्मा, पीओ डीआरडीए संजीत सिंह, बीडीओ गौरव धीमान, एसडीओ आईपीएच पुनीत शर्मा और विभिन्न गांव के नंबरदारों के अतिरिक्त संबंधित विभागों के अधिकारियों ने भी अपने अपने सुझाव रखे। वहीं, जिलाधीश के अनुसार जंगलों को बचाने के लिए हरसंभव यत्न  किए जा रहे हैं। जंगलों को आग से बचाने के लिए चीड़ पत्तियों को हटाया जाना जरूरी है लिहाजा जंगलों में चीड़ की पत्तियों को इक्टठा करके एसीसी बरमाणा को भेजा जाएगा।

सलापड़ में निजी वोल्वो ने उड़ाई बाइक, युवक घायल

जुखाला। एनएच चंडीगढ़-मनाली पर स्थित सलापड़ के पास एक निजी वोल्वो व मोटर साइकिल की टक्कर में एक युवक घायल हो गया। पुलिस ने मामला दर्जकर छानबीन शुरू कर दी है। जानकारी के अनुसार एनएच चंडीगढ़-मनाली पर स्थित सलापड़ के पास  निजी वोल्वो ने मोटरसाइकिल को टक्कर मार दी, जिससे मोटर साइकिल चालक को चोटंे आई हैं। घायल युवक को उपचार के लिए जिला अस्पताल भेजा गया। उधर, पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

You might also like