हर हलके में  तीन-तीन मॉडल पोलिंग बूथ

धर्मशाला   —लोकसभा निर्वाचन-2019 के दृष्टिगत प्रत्येक विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में तीन-तीन मॉडल पोलिंग बूथ स्थापित किए जाएंगे, जहां पर सभी प्रकार की सुविधाएं समाहित होंगी। यह जानकारी अतिरिक्त उपायुक्त राघव शर्मा ने सोमवार को उपायुक्त कार्यालय परिसर के नैनसुख सभागार में नोडल अधिकारियों के साथ मॉडल पोलिंग बूथ केंद्रों की स्थापना को लेकर आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी। उन्होंने कहा कि मॉडल पोलिंग बूथों को स्थापित करने का मुख्य उद्देश्य ज्यादा से ज्यादा लोगों को मतदान के लिए प्रेरित करना है। उन्होंने कहा कि एक पोलिंग बूथ शहरी क्षेत्र में तथा दो बूथ ग्रामीण क्षेत्रों में स्थापित किए जाएंगे।  उन्होंने कहा कि पोलिंग बूथों के भवन देखने में सुंदर और आकर्षक होने चाहिएं तथा उनमें मतदान के लिए प्रेरित करने वाली पेंटिंग के अतिरिक्त विद्युत, पेयजल, रैंप, शौचालयों की व्यवस्था व दिव्यांग मतदाताओं के लिए व्हील चेयर इत्यादि की उचित व्यवस्था होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि मतदान केंद्रों में मतदान कर्मियों तथा मतदान एजेंटों के लिए बैठने की समुचित व्यवस्था के साथ-साथ अच्छे और मजबूत फर्नीचर की व्यवस्था हो। उन्होंने कहा कि पोलिंग बूथों में बच्चों के लिए क्रेच, धूप से बचने के लिए टैंट की व्यवस्था, प्राथमिक उपचार के लिए चिकित्सा दल के लिए बूथ स्थापित करने तथा महिला व पुरुष मतदाताओं को मतदान करने के लिए अलग-अलग लाइनें लगाई जाएं। उन्होंने कहा कि नेत्रहीन, कमजोर, गर्भवती महिलाओं व स्तनपान करवाने वाली महिलाओं को मतदान करने में प्राथमिकता प्रदान की जाए। उन्होंने कहा कि बूथ के अंदर पर्याप्त प्रकाश और पंखे की व्यवस्था, साफ-सफाई की समुचित व्यवस्था तथा पोलिंग बूथ पर कुछ कुर्सियों की व्यवस्था हो ताकि जरूरतमंद वोटरों को बिठाया जा सके। उन्होंने कहा कि हर मॉडल पोलिंग बूथ में डिस्प्ले बोर्ड लगा हो , जिसमें पोलिंग स्टेशन का नाम, चुनाव आयोग का लोगो, राष्ट्रीय मतदाता दिवस प्रतिज्ञा व प्रवेश और निकासी के लिए साइनेज लगे होने चाहिएं। इस अवसर पर तहसीलदार निर्वाचन उपेंद्र शुक्ला सहित सभी नोडल अधिकारी उपस्थित थे।

You might also like