हार सामने देख बौखलाए कांग्रेसी नेता

मंडी—मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को घमंडी कहना कांग्रेसी नेताओं की घटिया मानसिकता है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर साधारण व्यक्तित्व, कर्मठ, ईमानदार, लग्नशील और आम लोगों की तरह सबसे मिलना-जुलना तथा क्षेत्र के विकास पर हर समय सोचना उनकी पहचान है। मंडी में प्रेस को जारी बयान में मंडी संसदीय क्षेत्र के भाजपा प्रत्याशी रामस्वरूप शर्मा ने ये शब्द कहे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस प्रत्याशी आश्रय शर्मा और उनके ससुर राजीव गंभीर धन बल का रौब दिखा रहे हैं तथा संसदीय क्षेत्र के लोगों के प्रति अभद्र भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के खिलाफ मानहानि का दावा करने की बात से पता चलता है कि हार को सामने देखकर अब ये सभी कांग्रेसी नेता बौखला गए हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पर्यवेक्षक को एक बात सोच लेनी चाहिए कि यह दिल्ली नहीं है और न ही मंडी संसदीय क्षेत्र के मतदाता धन बल पर बिकते हैं। यदि वह मतदाताओं को पैसे देकर वोट खरीदने की सोच रखते हैं तो वह उनकी गलत फहमी है। हिमाचल देव भूमि है तथा यहां के लोग भी देवता स्वरुप हैं। बाहरी राज्य से आकर कांग्रेसी नेता प्रदेश का माहौल बिगाड़ने की कोशिश कर रहे है, जिसमें वह कामयाब नहीं होंगे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की रैली में जो जन सैलाब उमड़ा उससे पता चलता है कि उनकी प्रदेश में कितनी लोकप्रियता है। पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम जयराम ठाकुर ने मंडी संसदीय क्षेत्र को जो बड़ी परियोजनाएं दी हैं, वे सभी लोगों के सामने हैं। मगर कांग्रेसी नेताओं को यह विकास देखने के लिए सकारात्मक चश्मा लगाना होगा। उन्होंने कहा कि मंडी संसदीय क्षेत्र के लोग इस मर्तबा लोकसभा चुनावों में भाजपा के पक्ष में मत देने वाले हैं।

You might also like