हिमाचल पुलिस जनता के साथ फ्रेंडली

कॉमन कॉज के भारत की पुलिस व्यवस्था पर किए सर्वे में खुलासा

हमीरपुर – पुलिस का नाम सुनते ही आम से लेकर खास तक सबमें कुछ न कुछ भय देखा जाता है।  कॉमन काज नामक एक गैर राजनीतिक संगठन ने सीएसडीएस (सेंटर फॉर द स्ट्डी ऑफ डिवल्पिंग सोसायटी) के साथ मिलकर भारत की पुलिस व्यवस्था पर एक अध्ययन किया है और उसकी रिपोर्ट प्रकाशित की है।  रिपोर्ट बताती है कि अन्य राज्यों की तुलना में हिमाचल पुलिस का जनता के साथ व्यवहार और विश्वसनीयता अच्छी है। हालांकि पुलिस के प्रति धारणा और सीनियर अफसरों में ट्रस्ट को लेकर प्रदेश पुलिस दूसरे स्थान पर रही है, लेकिन ऑवर आल स्थिति अन्य राज्यों की तुलना से बेहतर है । जनता के प्रति दृष्टिकोण और पुलिस विभाग के उच्च अधिकारियों के प्रति जनता के विश्वास के संदर्भ में हिमाचल पुलिस पूरे देश में दूसरे नंबर पर रही है। आपराधिक मामलों का निपटारा करने में हिमाचल पुलिस, पंजाब, हरियाणा और झारखंड राज्यों के साथ सर्वोच्च तीन राज्यों में शामिल है। आपराधिक मामलों को  इन्वस्टीगेट करने में हिमाचल  देश में नंबर वन पर है। जनता को पुलिस पर कितना भरोसा है, इस दिशा में हिमाचल पुलिस चौथे नंबर पर है। जनता पुलिस की कार्यप्रणाली से कितनी संतुष्ट होती है, इस मामले में प्रदेश पुलिस का दूसरा पायदान है। किसी भी मामले को छानबीन करते वक्त अन्य राज्यों की तुलना में हिमाचल पुलिस इस  पर ज्यादा ध्यान नहीं देती कि कौन किस जाति का है। मौजूदा पुलिसिंग बताती है कि  पुलिस और जनता के दोस्ताना संबंध बन रहे हैं। 

पड़ोसी राज्यों के मुकाबले रैंकिंग

पैरामीटर           हिमाचल   हरियाणा     पंजाब      दिल्ली

ट्रस्ट इन पुलिस       4           3           20         18

पुलिस के बारे में      2           1           22         16

दोस्ताना संबंध        1           3           22         5

अफसरों पर भरोसा               2           1           20         12

You might also like