हिमाचल में भाजपा को 70 फीसदी मतदान

कांग्रेस प्रत्याशियों को मिले सिर्फ 27 परसेंट वोट, तीन प्रतिशत मत अन्य उम्मीदवारों के हिस्से आए

कांगड़ा में सबसे बड़ी जीत

शिमला —भाजपा के पक्ष में एक तरफा 70 फीसदी मतदान कर हिमाचल ने मोदी के प्रति अपनी अटूट आस्था जताई है। प्रदेश कांग्रेस को इस चुनाव में 27 प्रतिशत के करीब वोट हासिल हुए हैं। इस जादुई आंकड़े से यह स्पष्ट हो गया है कि हिमाचल भाजपा ने प्रदेश में कांग्रेस के काडर वोट को भी सेंध लगा दी है। प्रदेश भर में अन्यों को करीब तीन प्रतिशत ही वोट मिल पाए हैं। आंकड़ों के अनुसार प्रदेश में भाजपा की सबसे बड़ी जीत कांगड़ा संसदीय क्षेत्र में दर्ज हुई है।  इस संसदीय क्षेत्र से निर्वाचित हुए किशन कपूर को 74 प्रतिशत वोट प्राप्त हुए हैं। इसके मुकाबले कांग्रेस के पवन काजल 24 प्रतिशत वोट लेते हुए कांग्रेस का काडर भी अपने पक्ष में नहीं कर पाए। कांग्रेस को मंडी संसदीय क्षेत्र में जीत की सबसे बड़ी आस थी। ईवीएम खोलते ही बाहर आए नतीजे चौंकाने वाले रहे और भाजपा के रामस्वरूप शर्मा करीब 70 फीसदी वोट ले गए। इसके मुकाबले कांग्रेस के आश्रय शर्मा का ग्राफ 26 फीसदी मतों पर ही सिमट गया। भाजपा ने अपने मजबूत गढ़ संसदीय क्षेत्र हमीरपुर में भी जीत का अंतर बड़ा किया है। इस संसदीय क्षेत्र से भाजपा के अनुराग ठाकुर को करीब 70 प्रतिशत मत हासिल हुए हैं। इसके मुकाबले रामलाल ठाकुर 28 प्रतिशत वोट ही प्राप्त कर पाए। भाजपा प्रत्याशी को तीसरी बार निर्वाचित कर शिमला संसदीय क्षेत्र ने कांग्रेस का ग्राफ भी कम कर दिया है। भाजपा के सुरेश कश्यप को 68 फीसदी मत हासिल हुए हैं। इसके मुकाबले कांग्रेस के धनीराम शांडिल 30 फीसदी ही वोट ले पाए।

मुख्यमंत्री ने शिमला बुलाए चारों सांसद

शिमला। चारों सीटों पर जीत मिलने पर मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को शिमला में सभी सांसदोें को बुलाया है। वे यहां सभी जीते हुए प्रत्याशियों के साथ-साथ वर्तमान सांसदों, सभी मंत्री, विधायकों सहित पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ अहम बैठक करेंगे। प्राप्त जानकारी के मुताबिक शुक्रवार को शिमला में जीत का जश्न जारी रहेगा। इस दौरान मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में प्रदेश भाजपा आगामी की रणनीति भी तय करेगी। बताया गया कि धर्मशाला और पच्छाद में होने वाले उपचुनाव में पार्टी प्रत्याशियों की जीत सुनिश्चत करने के लिए रणनीति तय की जाएगी।

You might also like