१६ के विकास को सांसद निधि से दिए दो करोड़

बरोट –भू-भू जोत टनल के निर्माण होने से चौहार घाटी विकास की राह पर रफ्तार पकड़ेगी। टनल के निर्माण के लिए डीपीआर बनकर तैयार हो चुकी है तथा जल्दी ही इसको अमलीजामा पहनाया जाएगा। द्रंग विस क्षेत्र के बरोट, बोचिंग, बरधान और थलटूखोड़ में नुक्कड़ जनसभाओं को संबोधित करते हुए भाजपा प्रत्याशी रामस्वरूप शर्मा ने ये शब्द कहे। उन्होंने कहा कि भू-भू जोत टनल की डीपीआर बनकर तैयार है तथा इसे बनाने के लिए जल्दी ही रास्ता प्रशस्त किया जाएगा। टनल बनने से जोगिंद्रनगर और कुल्लू के बीच में करीब 50 किलोमीटर की दूरी कम होगी। केंद्र सरकार ने क्षेत्र के विकास के लिए दिल खोलकर धन दिया, मगर प्रदेश में कांग्रेस सरकार होने की वजह से टनल का निर्माण कार्य नहीं हो सका। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने अब इस कार्य को तेज गति से करवाने के लिए तमाम औपचारिकताएं पूरी करना शुरू कर दी हैं तथा टनल बनने से चौहारघाटी जहां पर्यटन के क्षेत्र को लेकर विकसित होगी तथा कृषि व बागबानी को लेकर भी नई योजनाएं बनाई जाएंगी। उन्होंने कहा कि चौहार घाटी का बरोट स्विट्जरलैंड से कम नहीं है तथा इसे पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जाएगा। शानन प्रोजेक्ट का मुद्दा उन्होंने संसद में उठाया और जर्जर हो चुकी टनन और ट्राली को पुनः शुरू करने के लिए 25 करोड़ रुपए स्वीकृत करवाए। द्रंग क्षेत्र के विकास के लिए 160 विकासात्मक योजनाओं के लिए दो करोड़ रुपए प्रदान किए है। पूर्व केंद्रीय मंत्री सुखराम व उनके पुत्र अनिल शर्मा पर प्रहार करते हुए उन्होंने कहा कि सुखराम एंड कंपनी के लिए अपना परिवार सर्वोपरि है तथा चुनावी महौल में फिल्मी कलाकार की तरह नाटक को अंजाम देते हुए अब मंच से दहाडे़ मारने लगे हैं। मंडी संसदीय क्षेत्र के लोगों ने सुखराम को सिरमाथे बिठाया, मगर उन्होंने उनका विकास करवाने के बजाय अपना विकास करवाया।  अनिल शर्मा चोरी छिपे कांगे्रस उम्मीदवार के लिए प्रचार कर रहा है तथा भाजपा में रहने का नाटक भी रच रहे हैं।  इस अवसर पर द्रंग भाजपा मंडल के अध्यक्ष मोहन सिंह, बीडीसी के उपाध्यक्ष कपूर सिंह के अलावा कई भाजपा दिग्गज भी उपस्थित थे।

You might also like